अखिलेश यादव ओवरकॉन्फिडेंस में बयान न दें 10 मार्च के “जनादेश” का इंतजार करें! -बाबू सिंह कुशवाहा

प्रथम चरण के मतदान के बाद राजनीतिक दलों की ओर से तमाम तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। अलग-अलग दल खुद को सुपरहिट बता रहे हैं । वहीं समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की ओर से यह दावा किया गया है कि प्रथम चरण के मतदान में उनकी पार्टी को अधिकांश सीटों पर सफलता मिल रही है अखिलेश यादव के द्वारा सपा के पक्ष में स्पष्ट बहुमत की बातें कई बार कहीं गई ।

इस विषय पर एक सवाल के जवाब में जन अधिकार पार्टी के संस्थापक नेता पूर्व कैबिनेट मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा कहते हैं कि अखिलेश यादव को ओवरकॉन्फिडेंस यानी अति आत्मविश्वास में राजनीतिक बयान देकर जनादेश का अपमान नहीं करना चाहिए उन्हें जनादेश की प्रतीक्षा करनी चाहिए 10 मार्च को उत्तर प्रदेश की जनता यह स्पष्ट कर देगी कि कौन कितने पानी में है।

बाबू सिंह कुशवाहा ने कहा कि उनकी पार्टी अपने गठबंधन सहयोगियों के साथ लगभग 300 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और उनके प्रत्याशियों ने लंबे समय से समाज को जोड़ने का काम किया है। दलितों पिछड़ों और अल्पसंख्यकों को संगठित करने का काम किया है समान शिक्षा व्यवस्था हिस्सेदारी और भागीदारी के सिद्धांतों पर उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जनता को जागरूक किया है और इस चुनाव में उनकी पार्टी अच्छा प्रदर्शन कर रही है साथ ही साथ गठबंधन सहयोगियों को भी जनता का अच्छा सहयोग मिल रहा है।

द इंडियन ओपिनियन, लखनऊ

Leave a Reply

Your email address will not be published.