अखिलेश यादव ने भाजपा की केन्द्र व प्रदेश सरकार पर साधा निशाना।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुजफ्फनगर में किसान महापंचायत को लेकर भदोही में सपा की रैली पर कहा कि जनता में भाजपा के खिलाफ अभूतपूर्व एकता है। अब भाजपा की सरकार चली जाएगी।
उन्होंने ट्वीट कर कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक तरफ किसानों की और दूसरी तरफ पूर्वी यूपी में शिक्षकों और आम जनता की अभूतपूर्व एकजुटता ने दिखा दिया है कि भाजपा की दमनकारी, विभाजनकारी और दंभी सत्ता अब कभी वापस नहीं आएगी। ये भाजपा के कहर के ख़िलाफ़ जनमत की लहर है। भाजपा ख़त्म!


बता दें कि अखिलेश यादव ने रविवार को भदोही के इनारगांव में शिक्षक अधिवेशन को संबोधित किया और कहा कि योगीजी इकलौते ऐसे मुख्यमंत्री हैं, जो शिलान्यास का शिलान्यास करते हैं। पहले के काम को अपना बनाकर लोकार्पण करते हैं। सरकारी उपक्रमों को बेचकर सरकार आरक्षण खत्म करना चाहती है। भाजपा ने बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाया है और गरीबों को धोखा दिया है। किसान, व्यापारी, अधिवक्ता, छात्र, नौजवान सभी अब यूपी में बदलाव चाहते हैं।


अखिलेश यादव ने कहा कि सपा की सरकार ने किसान, नौजवान, बुनकर सभी का भला किया। जब हमारी सरकार थी तो शिक्षामित्रों का सम्मान था, वित्तविहीन शिक्षकों को भी मानदेय देने का इंतजाम किया था, लेकिन भाजपा की सरकार बनते ही सब बंद हो गया। कोरोना काल में शिक्षकों के साथ सरकार अन्याय कर रही है। मौत का आंकड़ा छिपाया गया। मजदूरों को सुविधा नहीं मिली। कई किलोमीटर तक पैदल चलते-चलते 90 मजदूर जान गंवा बैठे। बावजूद इसके उनकी मदद नहीं की गई। समय से इलाज न मिलने व दवा की के कारण कई लोगों की जान चली गई। भाजपा सरकार ने किसानों, शिक्षकों, शिक्षामित्रों को धोखा दिया।
उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग राष्ट्रप्रेम की बात करते हैं, लेकिन राष्ट्रीय संपत्ति बेच रहे हैं। आज स्थिति यह है कि अगर पैसा है तो ट्रेन, पटरी, हवाई जहाज तक बिक रही है। कहा कि हमारी सरकार में किसानों, बुनकरों को बिजली की मदद मिलेगी। उन्हें सहूलियत दी जाएगी।

रिपोर्ट – आर डी अवस्थी

Leave a Reply

Your email address will not be published.