इस विनाशकारी जीव से किसान हो जाए सावधान, फ़सलो का है दुश्मन!

क्या है निमेटोड

निमेटोड यानी सूत्रकृमि पतले धागे के समान होते है। शरीर लंबा बेलनाकार व पूरा शरीर बिना खंडों का होता है। फसल के लिए यह परजीवी की तरह होता है, जो मिट्टी या पौधे की उतकों में रहते हैं और जड़ों पर आक्रमण करते हैं। किसान इसकी पहचान आसानी से नहीं कर पाते और कीटनाशक रसायनों का छिड़काव करते रहते हैं। इससे फसल को ही नुकसान होता है।

बीमारी के लक्षण

1:- रोगग्रस्त पौधों की पत्तियां पीली पड़ जाती है।

2:-पौधा मुरझा जाता है, बौना होता है।

3:-जड़े सीधी न होकर आपस मे गुच्छा बना लेती हैं।

4:-पौधों में फूल व फल देरी से लगते हैं, झड़ते भी हैं।

4:-फलों का आकार छोटा हो जाता है व उसकी गुणवत्ता कम हो जाती है।

रोग पर नियंत्रण

जैविक खेती से लगेगी निमेटोड पर लगाम

१:-nemotiguard 2लिटर प्रति एकड़ स्प्रे करने से 100% लाभ होता है और फसल बेहतर होती है

हमें उम्मीद है यह पोस्ट आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो इसे अन्य किसानों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक किसान भाई अपनी फसल को nemotods से बचा सकें।खेती से जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछे और अधिक जानकारी के लिए हमारे कृषि विशेषज्ञ से सम्पर्क कर सकते है । 9451819229

विश्वजीत शर्मा
एमएससी एग्रीकल्चर

एग्रीकल्चर डेस्क
द इंडियन ओपिनियन

Leave a Reply

Your email address will not be published.