कहीं बॉडी में URIC ACID बढ़ तो नही गया? जानें यूरिक एसिड के लक्षण

यूरिक एसिड के बढ़ने से शरीर की मांसपेशियों में सूजन आ जाती है जिससे दर्द महसूस होता है और ये दर्द शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है
(खासकर टखने में, कमर, गर्दन, घुटने आदि में) इसी से बाद में गाउट, गठिया और आर्थराइटिस जैसी परेशानियां हो जाती हैं।

1-प्यूरिन से भरपूर खाद्य पदार्थ: प्यूरिन से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे रेड मीट, समुद्री भोजन, ऑर्गन मीट और कुछ प्रकार के सेम और परिष्कृत कार्बोहाइड्रेट और सब्जियां जैसे शतावरी, मटर, मशरूम और गोभी खाने से बचें

2-फ्रक्टोज युक्त पदार्थों का सेवन कम करें: एक शोध के अनुसार फ्रक्टोज युक्त पदार्थों का सेवन करने से आपको गठिया होने का खतरा दुगुना हो जाता है इसलिये जितना हो सके फ्रक्टोज युक्त पदार्थों के सेवन से बचें।

3-अल्कोहोल का सेवन कम करें: खासकर यदि आप यूरिक एसिड की समस्या से परेशान रहते है तो अल्कोहोल का सेवन न करे, क्योंकि यह आपके शरीर को डिहाइड्रेट कर देता है। बीयर में यीस्‍ट भरपूर होता है
इसलिए इसके सेवन से दूर रहना चाहिये।आप चाहें तो वाइन का सेवन कर सकते हैं क्योंकि यह यूरिक एसिड के स्‍तर को प्रभावित नहीं करती।

4- दही, पालक और ड्राई फ्रूट्स, दाल और पालक में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है, जो यूरिक एसिड को बढ़ा देता हैं |

5- नियम के अनुसार पीएं पानी यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए आपको नियम के तहत ही पानी पीना चाहिए. खाना खाते समय पानी का सेवन नहीं करें, खाना खाने के एक घंटे या डेढ़ घंटे बाद पानी का सेवन करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published.