किसान नौजवान पटेल यात्रा का हुआ समापन।

प्रयागराज : मिशन 2022 को लेकर समाजवादी पार्टी भी सम्मेलनों और रैलियों के जरिए माहौल बनाने में जुट गई है। लगभग दो महीने तक चली किसान नौजवान पटेल यात्रा का समापन प्रयागराज में रविवार को लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के मौके पर हुआ। 63 दिन में पौने तीन सौ विधानसभाओं से होकर प्रयागराज पहुंची किसान नौजवान पटेल यात्रा के समापन के मौके पर सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल बीजेपी सरकार पर जमकर बरसे।

केपी कालेज मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता का आशीर्वाद किसान पटेल यात्रा के माध्यम से समाजवादी पार्टी को मिला है। उन्होंने कहा है कि जिस तरह की लहर दिखाई दे रही है अखिलेश यादव बीजेपी को सत्ता से हटा देंगे। नरेश उत्तम पटेल ने शिवपाल द्वारा गठबंधन न करने के आरोपों पर कहा कि प्रदेश की जनता अखिलेश यादव को ही नेता मानती है। कहा कि, छोटे दलों का स्वागत है। लेकिन अखिलेश यादव को ही नेता मानना होगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी किसानों-नौजवानों के बीच उनकी समस्याओं को लेकर है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है भारतीय जनता पार्टी को हटाना। क्योंकि भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के हर व्यक्ति के जीवन को बर्बाद कर दिया है। सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि मीडिया का भी दमन किया जा रहा है।

उनके ऊपर छापे डाले जाते हैं। अगर मीडिया को खत्म किया गया तो देश नहीं बचेगा। प्रियंका गांधी की बढ़ी सक्रियता पर कहा कि यह लोकतांत्रिक देश है सभी को जनता के बीच जाने का पूरा हक है। सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी सरकार अपने चुनावी वायदों को पूरा करने में विफल रही है। प्रदेश की जनता महंगाई से त्रस्त है। नौजवान बेरोजगार है। युवाओं को दो करोड़ प्रतिवर्ष नौकरी देने का वायदा भी सरकार पूरा नहीं कर पाई। केवल पीएम मोदी योगी जी की तारीफ करते हैं और योगी जी पीएम मोदी की तारीफ करते हैं। जनता की आवाज नहीं सुनी जा रही है। 2022 में जनता, भारतीय जनता पार्टी को हटा देगी। नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि किसान परेशान है। उसे न्यूनतम समर्थन मूल्य तक नहीं मिल रहा है। उन्होंने किसानों पर थोपे गए कृषि सुधार कानूनों को वापस लेने और किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य देने की मांग की है। कहा है कि यदि बीजेपी सरकार अब भी नहीं चेती तो जनता इसे सबक सिखा देगी।

रिपोर्ट – मनीष वर्मा, प्रयागराज

Leave a Reply

Your email address will not be published.