कोरोना तीसरी लहर का खतरा – दूसरे शहरों से लखनऊ आने वालों के लिए प्रदेश सरकार ने किए दिशा निर्देश जारी

उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोनावायरस के नए वैरिएंट और कोरोना के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए नई गाइडलाइन जारी की है. साथ ही राजधानी लखनऊ सहित पूरे प्रदेश में सतर्कता भी बढ़ा दी गई है।

प्रदेश और देश के बाहर से आने वाले यात्रियों पर विशेष निगरानी रखी जा रही है । इसके लिए लखनऊ एयरपोर्ट पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से 16 टीमें मौजूद हैं। देश के दस ऐसे शहरों को चिन्हित किया गया है जहां से यात्रियों की आवाजाही अधिक है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का इस सम्बन्ध में बयान

लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनोज अग्रवाल ने बताया कि दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, गोवा, जयपुर, कोलकाता, अहमदाबाद, चेन्नई, कोच्चि और बेंगलुरु ये वो दस शहर हैं जहां से आने वाले यात्रियों पर विशेष नजर रखी जा रही है। यह सबसे अधिक सैलानियों केआवाजाही वाली जगहें हैं । उन्होंने इस संबंध में आगे कहा की इन जगहों से सैलानियों के आने से यह संभावना रहती है कि यहां से आने वाला सैलानी खुद विदेश से आया हो या किसी विदेश से आने वाले के संपर्क में रह हो। इन जगहों से आने वाले कुल यात्रियों में दस फीसद लोगों की रैंडम जांच कराई जा रही है और जो देश खतरे से बाहर हैं वहां से आने वाले कुल यात्रियों में दो फीसदी की जांच के लिए कहा गया है। विदेश से आने वाले सभी यात्रियों का आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जा रहा है । इसके अलावा निगेटिव आने पर भी उनका टेलीफोनिक सर्विलांस हो रहा है । रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन पर भी थर्मल स्क्रीनिंग में या लक्षण के आधार पर जिस पर शक है उसकी जांच की जा रही है। बाहर से आने वालों में सिर्फ उनकी पहले की आरटीपीसीआर रिपोर्ट मान्य है जिनकी रिपोर्ट 24 घंटे के अंदर की हो ।

इलाज के लिए प्रदेश सरकार के क्या हैं इंतज़ाम ?

कोरोना के किसी भी तरह के लक्षण मिलने पर लखनऊ में आशियाना स्थित लोकबंधु अस्पताल को कोविड पॉजिटिव मरीजों की भर्ती के लिए नियत किया गया है । इस अस्पताल में 30 बेड का वार्ड अलग से तैयार कराया गया है परन्तु जरूरत पड़ने पर यहां बेड़ों की संख्या को बढ़ा सकते हैं । राज्य से बाहर के जो भी केस पॉजिटिव मिल रहे हैं या जो किसी बाहरी व्यक्ति के संपर्क में आये हों , ऐसी स्थिति में उन लोगों के और पॉजिटिव मिले मरीजों के सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे जा रहे हैं।

लखनऊ एयरपोर्ट पर निम्न शहरों से आते हैं यात्री

लखनऊ के इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर दुबई, शारजाह, अबु धाबी, मस्कट, ओमान, रियाद, जद्दा, दम्माम, कुवैत और जॉर्डन जैसे देशों सहित विश्व के कई प्रमुख शहरों से हर रोज़ सात से नौ डायरेक्ट फ्लाइ फ्लाइटस आती है जिसमें लगभग 1500 से 1800 यात्री शहर में दाखिल होते हैं. जबकि लखनऊ के डोमेस्टिक एयरपोर्ट पर मुंबई, दिल्ली, गोवा, कोलकाता, हैदराबाद, चेन्नई, बेंगलुरु, कोचीन, अहमदाबाद, जयपुर आदि जगहों से लगभग 25 फ्लाइटस आती है जिसमें करीब 4500 यात्री शहर में दाखिल होते हैं ।

सावधानी और बचाव ही सुरक्षा

कॅरोना के नए वैरिएंट और तीसरी लहर के संभावित आगमन के मद्देनजर कॅरोना से बचाव के उपायों का सख्ती से पालन ही एकमात्र विकल्प है क्योंकि सरकार कितने भी संसाधन बढ़ा ले 130 करोड आबदी वाले देश में अपर्याप्त ही साबित होंगे ।

रिपोर्ट – विकास चन्द्र अग्रवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published.