खण्ड शिक्षा अधिकारी के खिलाफ सांसद को सौंपा ज्ञापन

बाराबंकी: विगत दिनों जनपद औरैया के ब्लॉक बिधूना के खंड शिक्षा अधिकारी अवनीश कुमार के संरक्षण में आधार कार्ड बनवाने की एवज में की जारी अवैध बसूली की शिकायत करने पहुँचे शिक्षक संगठन यूटा के जिम्मेदार पदाधिकारियों के विरुद्ध थाना बिधूना में दर्ज करवाए गए झूंठे मुकदमे को निरस्त करते हुए सम्बन्धित बीईओ के खिलाफ विधिक कार्यवाही की मांग को लेकर जिले के पदाधिकारियों ने मा. मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन सांसद उपेन्द्र रावत से उनके आवास पर मुलाकात करके सौंपा।

ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया कि जनपद औरैया के ब्लॉक बिधूना में खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) अवनीश कुमार के संरक्षण में उनके नजदीकी रिश्तेदारों द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग के बीआरसी कार्यालय पर आधारकार्ड बनवाने की एवज में छात्रों अभिवावकों से अवैध बसूली की जा रही थी, जिसकी शिकायत मिलने पर शिक्षक संगठन यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन (यूटा) के पदाधिकारी व कुछ शिक्षक खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय बिधूना पहुंचे थे। उन्होंने प्रकरण की शिकायत संसदीय तरीके से बीईओ श्री अवनीश यादव से की, जिस पर बीईओ अपना आपा खोते बैठे और अपने नजदीकी रिश्तेदारों के साथ मिलकर एक शिक्षक के साथ मारपीट की। उसके बाद शिक्षकों पर अनावश्यक मानसिक दबाव बनाने के उद्देश्य से उक्त बीईओ द्वारा आठ शिक्षकों के विरुद्ध झूंठे आरोपों के आधार पर मारपीट व लूट की धाराओं में फर्जी मुकदमा औरैया जनपद के थाना बिधूना में दर्ज करवा दिया है।

बिना तथ्यों की जांच किये लूट जैसी संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज करना थाना पुलिस की निष्ठा पर प्रश्नचिन्ह लगाता है। पुलिस की कार्यशैली से आहत प्रदेशभर के लाखों शिक्षकों में भारी असंतोष व आक्रोश व्याप्त है, जिसको लेकर जनपद औरैया के हजारों शिक्षक आंदोलनरत है, मजबूरन प्रदेशभर के शिक्षक आंदोलन की राह पर जाने को है। जिसके चलते शैक्षिक व्यवस्था प्रभावित होना भी स्वाभाविक है जिसके लिये पुलिस प्रशासन औरैया जिम्मेदार माना जायेगा। यूटा के प्रदेश अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राठौर के आह्वान पर इस ज्ञापन के माध्यम से जनपद के शिक्षक आपसे अनुरोध करते है कि जनपद औरैया के थाना बिधूना में शिक्षकों के विरुद्ध दर्ज उक्त झूँठी एफआईआर को निरस्त करते हुए भ्रष्टाचार में संलिप्त बीईओ श्री अवनीश कुमार व उनके नजदीकी रिश्तेदारों के विरुद्ध भ्रष्टाचार करने, अवैध बसूली करने, सरकारी पद व व्यवस्थाओं का दुरुपयोग करने एवं शिक्षक के साथ मारपीट करने की सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कराने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया जाय।

उक्त प्रकरण के सम्बन्ध में ज्ञापन देने में यूटा जिलाध्यक्ष आशुतोष कुमार, महामंत्री सत्येन्द्र भास्कर, कोषाध्यक्ष पूर्णेश प्रताप सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष धर्मेन्द्र वर्मा, जिला संगठन मंत्री दीपक मिश्र, शाकिब किदवई, आशीष शुक्ल, राकेश कौल, संग्राम सिंह, सुशील सैनी सहित सभी जिला पदाधिकारियों के साथ ब्लॉक अध्यक्ष सिद्धौर देवेंद निरंजन , ब्लॉक अध्यक्ष हरख मनोज चौधरी, ब्लॉक फतेहपुर देवेंद्र प्रताप सिंह, अनिल कुमार आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्ट ब्यूरो बाराबंकी

Leave a Reply

Your email address will not be published.