खाद को लेकर मारामारी, किसानों ने सड़क जाम करने का किया प्रयास।

किसानों ने अपने चाहतों को रात के अंधेरे में खाद देने का लगाया आरोप

हरदोई में खाद की किल्लत से किसान परेशान हो रहे है।दिन भर किसान लाइन में लगे रहते लेकिन उन्हें खाद नसीब न हो रही। किसानों का आरोप है कि खाद चहेतों को रात के अंधेरे में उठवाई जा रही है। परेशान किसानों ने हरपालपुर में हंगामा किया वही बिलग्राम में सड़क जाम का प्रयास भी किया जिसके बाद प्रशासन में हड़कम्प मच गया वही खाद की समस्या को लेकर किसान नेता एडीएम को ज्ञापन देने पहुँचे तो एडीएम साहिबा बंदना त्रिवेदी ने उल्टा किसान नेताओ को ही नसीहत दे डाली और उनको ही गलत साबित कर दिया।

खाद की किल्लत का यह मामला हरपालपुर और बिलग्राम का है। हरपालपुर कस्बे में स्थित सोसाइटी पर सैकड़ों की तादात में किसान सुबह होते ही सोसाइटी पर जुटना शुरू हो जाते हैं और पूरे पूरे दिन खाद इंतजार में बैठे रहते हैं। खाद ना मिलने पर वह मायूस होकर घर वापस लौट जा रहे हैं। हरपालपुर सोसाइटी पर 300 बोरी खाद आई हुई थी वहीं सैकड़ों की तादात में खाद लेने के लिए किसान एकत्र होने लगे।कई किसानों ने बताया है कि सोसाइटी पर तैनात सचिव रात के अंधेरे में अपने चाहतों को खाद वितरित कर देते हैं सुबह जब किसान खाद लेने आते हैं तो उनसे कह दिया जाता है कि खाद खत्म हो गई किसानों को अधिक मूल्यों पर भी खाद का वितरण किया जा रहा है। वही खाद की समस्या को लेकर किसान नेता एडीएम को ज्ञापन देने पहुँचे तो एडीएम साहिबा बंदना त्रिवेदी ने उल्टा किसान नेताओ को ही नसीहत दे डाली और उनको ही गलत साबित कर दिया।

कुछ ऐसा ही हाल बिलग्राम हरदोई में तमाम प्रयासों के बाद भी साधन सहकारी समितियों में डीएपी खाद की समस्याएं दूर नही हो रही है बुआई के वक्त खाद के लिए किसानों को चक्कर काटने पड़ रहे है उसके बाद भी किसानों को खाद नही मिल पा रही है। साधन सहकारी समिति बिलग्राम में लगभग 15 दिन से डीएपी खाद न मिलने से नाराज किसानों ने हंगामा किया और साधन सहकारी समिति बिलग्राम के सामने किसानों ने रोड जामकिया।

हंगामा की सूचना पाकर मौके पर बिलग्राम उपजिलाधिकारी व थाना प्रभारी बिलग्राम राजवीर सिंह ने पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुच कर किसानों को समझा बुझाकर शान्त कराया। इसी खाद और धान खरीद की समस्या को लेकर किसान नेता एडीएम को ज्ञापन देने पहुँचे तो एडीएम साहिबा बंदना त्रिवेदी उल्टा किसान नेताओ को नसीहत देने लगी और उनको ही गलत साबित कर दिया। हालांकि खाद समस्या पर एडीएम ने कुछ भी बोलने से साफ इंकार कर दिया।

हरदोई से शिवहरि दीक्षित की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.