गुस्से से बचे: गृह प्रवेश के दिन ही झगड़ा पति पत्नी ने कर लिया सुसाइड, बच्चे हुए अनाथ!

क्रोध और आवेश में बहुत से लोग न सिर्फ अपना जीवन बर्बाद कर रहे हैं बल्कि अपना परिवार भी बर्बाद कर रहे हैं अनियंत्रित गुस्से के चलते देश में बड़ी संख्या में पढ़े लिखे लोग भी आत्महत्या कर रहे हैं जिससे उनका परिवार और उनके बच्चे अनाथ हो रहे हैं ।

लखनऊ के गोमती नगर विस्तार इलाके में गृह प्रवेश के कार्यक्रम में पति-पत्नी के बीच मामूली विवाद को लेकर इस तरह झगड़ा हो गया कि दोनों की जान चली गई और बच्चे अनाथ हो गए।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक गोंडा जनपद के निवासी श्याम किशोर मिश्रा 32 वर्ष और उनकी पत्नी साधना मिश्रा 28 वर्ष की 2007 में शादी हुई थी दंपत्ति के दो बच्चे अदिति 8 वर्ष और अविनाश 7 वर्ष के हैं श्याम किशोर मिश्रा लखनऊ के खरगापुर के गीतापुरी इलाके में रहते हैं हाल ही में दोनों ने छोटा भरवारा इलाके में अपना 3 मंजिला मकान भी बनवाया था श्याम किशोर मिश्रा मोबाइल फोन का कारोबार करते थे।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक मंगलवार की रात उनके नए मकान का गृह प्रवेश कार्यक्रम था जिसने कई रिश्तेदार और परिचित भी आमंत्रित थे कार्यक्रम में आर्केस्ट्रा पार्टी का आयोजन किया गया था और महिला डांसर भी कार्यक्रम में डांस कर रही थी । सब कुछ सामान्य था और रात 10:00 बजे कार्यक्रम समाप्त हो गया लेकिन रात के करीब 11:00 बजे श्याम किशोर और पत्नी साधना मकान की तीसरी मंजिल पर बने अपने कमरे में चले गए दोनों की बीच तेज बहस और झगड़ा होने लगा बेटी अदिति कमरे में पहुंची तो दोनों को लड़ते झगड़ते देख रोने लगी और चुपचाप नीचे चली गयी अदिति का कहना है कि उनके पिता महिला डांसरों के साथ डांस करने लगे और उन्होंने थोड़ी शराब भी पी ली थी जिसके चलते मम्मी और पापा के बीच झगड़ा हो गया ।

पुलिस अधिकारियों को यह अनुमान है कि गृह प्रवेश के दौरान नशे में श्याम किशोर डांसर के साथ नाचने लगे जिससे उनकी पत्नी को बुरा लगा और इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ और देर रात में दोनों आपस में झगड़ गए अधिकारियों का अनुमान है कि पति ने और पत्नी ने दोनों ने सुसाइड कर लिया यह भी हो सकता है कि पति ने पहले पत्नी को मारा और खुद सुसाइड कर लिया हो फिलहाल परिवार की खुशियां अचानक गम में बदल गई और दोनों मासूम बच्चे अनाथ हो गए माता पिता के क्रोध में बच्चों का भी जीवन बर्बाद होने के कगार पर पहुंच गया।

रिश्तेदारों को दोनों बच्चों को समझाने के लिए शब्द नहीं मिल रहे थे और पूरे इलाके में मातम छाया हुआ था वही साधना के पिता ने इस मामले में षड्यंत्र की आशंका जताकर पुलिस से निष्पक्ष जांच की मांग की है

लखनऊ
द इंडियन ओपिनियन

Leave a Reply

Your email address will not be published.