डेंगू के कहर के बावजूद हरदोई नगर पालिका और जिला प्रशासन लापरवाह !

संचारी रोगों की रोकथाम में चार चांद लगाते जिले के जिम्मेदार

वर्तमान में शासन के मंशानुरूप प्रशासनिक अमले के द्वारा संचारी रोगों के रोकथाम के लिए युद्ध स्तर पर तैयारियां करने के बाद उसे सिर्फ कागजों तक ही सीमित रखा गया, इसका जीता जागता उदाहरण है नगर पालिका परिषद क्षेत्र का वार्ड संख्या 5 जहां पर स्वच्छता अभियान में चार चांद लगाने का काम वहां की सफाई व्यवस्था कर रही है, साथ ही संचारी रोगों से रोकथाम के लिए वहां पर कुड़े के ढेरों के ऊपर सुअरों का जमावड़ा अपना काम बखूबी निभा रहे हैं, यदि बात सरकारी तंत्र के मुलाजिमों की करें तो उनके द्वारा भी व्यवस्थाओं पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है जैसे कि नगर पालिका क्षेत्र के निवासियों की शिकायतों को दरकिनार करना, अपने वातानुकूलित कार्यालयों में बैठकर सफाई व्यवस्था व संचारी रोगों की रोकथाम के लिए कागजों पर ही युद्ध स्तर पर तैयारियां करना,

अब बात करते हैं नगर पालिका के वार्ड संख्या 5 के हाल की तो आपको बता दें कि यहां एक मोहल्ला है गुप्ता कालोनी जहां पर शायद ही ऐसा कोई घर बचा हो जो डेंगू के प्रकोप में ना हो कई घर तो ऐसे हैं जिनमे परिवार के सभी सदस्यों को डेंगू जैसी समस्या से जूझना पड़ रहा है कुछ ने तो अपने परिवार के सदस्यों को भी को दिया है, मगर इसके बावजूद यहां ना तो कभी फॉगिंग होती है और ना ही सफाई व्यवस्था की दुरुस्तगी के लिए कोई प्रयास किये जाते हैं।

आखिर क्या वजह है कि हरदोई नगर पालिका प्रशासन व जिला प्रशासन के जिम्मेदारों के द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा कोरोना जैसे वैश्विक महामारी के बीच डेंगू ने भी अपने पांव पसार लिए हैं ऐसे में प्रशासनिक तौर पर जिम्मेदारों पर बड़ी जिम्मेदारी आ पड़ी है मगर शायद जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारी भूलकर खुद में ही मस्त होकर सारी व्यवस्थाएं कागजों पर ही दुरुस्त रखते हैं।

हरदोई से शिवहरि दीक्षित की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.