दलितों पिछड़ों अल्पसंख्यकों जागो नहीं तो फिर होगा शोषण और अत्याचार-बाबू सिंह कुशवाहा

जन अधिकार पार्टी के तत्वाधान में पिछड़ा दलित व अल्पसंख्यक वर्ग के प्रतिनिधि सम्मेलन प्रयागराज के शिवगढ़ में हुआ।

इस आयोजन के मुख्य अतिथि पूर्व कैबिनेट मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा रहे एवं सम्मेलन का प्रारंभ जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं विधि प्रकोष्ठ अध्यक्ष माननीय ज्ञान प्रकाश मौर्य जी एवं उनकी धर्मपत्नी सरिता मौर्य जी ने माननीय मुख्य अतिथि बाबू सिंह कुशवाहा जी को तिलक लगा कर एवं मुकुट भेंट कर प्रारंभ किया। कार्यक्रम में दलित पिछड़े और अल्पसंख्यक समाज के लोग बड़ी संख्या में शामिल हुए और सभी लोगों ने जन अधिकार पार्टी के नेतृत्व में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए एकजुट होकर काम करने का संकल्प लिया।

इस कार्यक्रम के मुख्य संचालक एवं प्रभारी अजीत प्रताप कुशवाहा रहे उनके नेतृत्व में क्षेत्र के कई गांव से बड़ी संख्या में सर्व समाज के लोग कार्यक्रम में शामिल हुए और प्रदेश में एक ऐसी सरकार के गठन के लिए लोगों ने संकल्प लिया जो बिना भेदभाव के सभी वर्गों के साथ-साथ खासतौर पर समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए काम करें।

इस सम्मेलन को संबोधित करते हुए माननीय बाबू सिंह कुशवाहा जी ने कहां की जरूरत है कि पीड़ित शोषित कमजोर लोग एकजुट होकर सत्ता परिवर्तन के लिए काम करें और ऐसी सप्ताह का निर्माण करें जो उनकी तकलीफों को समझें और उन्हें भी विकास की मुख्यधारा में आगे बढ़ाने का काम करें । पूर्व मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा ने कहा कि अगर अब भी हम नहीं जागेंगे तो हमारे वोट से फिर वह हमें डंडे मारेगे ,हमें अपने वोट की अहमियत को समझना चाहिए क्योंकि इसी वोट से हमारा भविष्य और हमे अपना हक और अधिकार मिलेगा ,हमारी बहू बेटियां सुरक्षित रहेगी।

गौरतलब है कि जन अधिकार पार्टी उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों में अपने संगठन को मजबूत कर रही है और आने वाले विधानसभा चुनाव में सभी विधानसभा क्षेत्रों में बूथ स्तर तक संगठन को पहुंचाने का प्रयास कर रही है।

ब्यूरो रिपोर्ट प्रयागराज द इंडियन ओपिनियन

Leave a Reply

Your email address will not be published.