बलूचिस्तान की आजादी के लिए तेज हुआ सशस्त्र आंदोलन, BRA ने जिन्ना के बुत को उड़ाया!

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के ग्वादर क्षेत्र में बलूचिस्तान रिपब्लिकन आर्मी के सशस्त्र क्रांतिकारियों ने पाकिस्तान सरकार को एक बड़ा झटका देते हुए ग्वादर क्षेत्र में डीआईजी ऑफिस के निकट साल भर पहले लगाई गई मोहम्मद अली जिन्ना की 20 फीट ऊंची मूर्ति को बम धमाके से उड़ा दिया है ।

बलूच रिपब्लिकन आर्मी कई दशकों से पाकिस्तान से स्वतंत्र होने के लिए सशस्त्र आंदोलन चला रही है उनका दावा है कि पाकिस्तान ने जबरन उनके क्षेत्र पर कब्जा किया है और इसके लिए बलूच संस्कृति का दमन किया जा रहा है बलूचिस्तान आंदोलन से जुड़े नेता दुनिया के अलग-अलग देशों से इस आंदोलन को समर्थन दे रहे हैं वहीं पाकिस्तान के अंदर इसके लिए एक हथियारबंद मूवमेंट भी लंबे समय से चल रहा है ।

जानकारी के मुताबिक रविवार को एक भीषण बम विस्फोट में जिन्ना की मूर्ति कई टुकड़ों में बढ़ गई पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि बलूच आतंकी टूरिस्ट के भेष में आए थे और इस घटना को अंजाम देकर गायब हो गए।

सरकार ने घटना की जांच और बलूचिस्तान के आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं।एजेंसियां

एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published.