बाराबंकी: न्याय चला निर्धन से मिलने की परिकल्पना को साकार करने की कार्य योजना तैयार।

बाराबंकी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बाराबंकी के तत्वावधान में 11 सितम्बर 2021 को जनपद न्यायालय में लगने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के परिपेक्ष्य में माननीय जनपद न्यायायधीश राधेश्याम यादव की अध्यक्षता में जनपद बाराबंकी के विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारीगण के साथ समीक्षा बैठक का आयोजन माननीय जनपद न्यायधीश महोदय के विश्राम कक्ष मे किया गया।

इस बैठक में अशोक कुमार यादव द्वितीय विशेष न्यायाधीश एस0सी0/एस0टी0एक्ट व नोडल अधिकारी राष्ट्रीय लोक अदालत, संजय कुमार सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बाराबंकी के अतिरिक्त अपर जिलाधिकारी बाराबंकी, अग्रणी बैंक प्रबन्धक, पशुपालन विभाग, जिला विकास अधिकारी कार्यालय, दूर संचार विभाग, बाट-माप, उद्यान विभाग, वाणिज्यकर, स्वास्थ्य विभाग, पोस्ट आफिस कार्यालय, श्रम विभाग, सूचना विभाग, वन विभाग, पी0डब्लू डी0 विभाग, चकबंदी, यातायात विभाग, समाज कल्याण विभाग, जिलापूर्ति विभाग के नोडल अधिकारीगण उपस्थित रहे।

इस दौरान जनपद न्यायाधीश राधेश्याम यादव द्वारा बताया गया कि 11.09.2021 की राष्ट्रीय लोक अदालत में मोटर दुर्घटना से संबंधित क्लेम पेटीशन, दीवानी वाद, वैवाहिक वाद, फौजदारी के कम्पाउन्डेबल वाद, एन0आई0 एक्ट, विद्युत अधिनियम, बैंक के ऋण सम्बन्धी वाद, राजस्व वाद, चकबन्दी वाद तथा वे समस्त वाद जो सुलह समझौता के आधार पर निस्तारित किये सकते हैं, उनको जरिये सुलह समझौता निस्तारित कराया जायेगा। जिसमें प्री-लिटिगेशन स्तर पर अपने अपने विभागों में लम्बित प्रकरण खास तौर पर कर्मचारियों के वेतन, भत्ते, जी0पी0एफ0 इत्यादि से संबंधित प्रकरणों को वरीयता के आधार पर निस्तारित करने का प्रयास करे। लोक अदालत, न्याय चला निर्धन से मिलने की परिकल्पना को साकार स्वरूप देने के लिए इस लोक अदालत को सफल बनाने में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करें जिससे लोक अदालत अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सके। लोक अदालत को आम जन तक पहंुचाने के लिए आप सभी अपने अपने स्तर के व्यापक प्रचार प्रसार करें जिससे सामान्य जन मानस तक इसकी सूचना पहुंचे और वे लोग लोक अदालत का लाभ उठा सकें।

इसी के क्रम में अशोक कुमार यादव द्वितीय विशेष न्यायाधीश एस0सी0/एस0टी0एक्ट एवं नोडल अधिकारी राष्ट्रीय लोक अदालत द्वारा बताया गया कि इस लोक अदालत की सफलता के लिए लगातार बैठकों का आयोजन किया जा रहा है एवं प्रत्येक स्तर पर विस्तृत रूप रेखा तैयार कर उनका क्रियान्वयन कराया जा रहा है। इसके अतिरिक्त पिछली लोक अदालत में निस्तारित किये गये मामलों से अधिक मामले चिन्हांकित करते हुए उनके अधिकाधिक निस्तारण के लिए प्रेरित किया गया।

सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण संजय कुमार द्वारा बताया गया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में केन्द्र/राज्य सरकार एवं माननीय उच्च न्यायायल द्वारा कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु जारी सभी दिशा निर्देशों का पालन कराते हुए मामलों का निस्तारण कराये जाने का लक्ष्य रखा गया है।

रिपोर्ट-सरदार परमजीत सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published.