भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए हर त्याग को मैं तैयार : शिवपाल यादव

बलरामपुर में आज प्रगतिशील समाजवादी पार्टी सुप्रीमो शिवपाल यादव “सामाजिक परिवर्तन यात्रा का रथ” लेकर पहुंचे। जिले की सीमा सहित कई स्थानों पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। शिवपाल यादव ने मीडिया से मुखातिब होते हुए बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि हम समाजवादी पार्टी से गठबंधन के लिए तैयार है। यहां तक कि हम पार्टी के विलय को भी तैयार है। हमारा उद्देश्य केवल भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से हटाना है। उसके लिए हम कुछ भी करने को तैयार है। किसी भी तरह का त्याग कर सकता हूं। लेकिन सपा सुप्रीमो को भी मेरे लोगों का खयाल रखते हुए टिकट देना होगा।

प्रदेश में पिछले 7-8 वर्षों से अपनी अपने लिए नए सिरे से राजनीतिक जमीन का तलाश कर रहे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव बुधवार को बलरामपुर पहुंचे। यहां जनपद की सीमा में बहादुरपुर के पास उनका प्रसपा कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया। सड़क मार्ग से नगर भ्रमण कर भगवतीगंज चौराहे पर शिवपाल यादव का काफिला पहुंचा। जहां पार्टी के जिलाध्यक्ष सहित दर्जनों कार्यकर्ताओं ने माल्यार्पण कर उनका स्वागत किया।

मीडिया से मुखातिब होते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि हम सपा से गठबंधन के पक्ष में हैं और गठबंधन चाहते भी हैं। हमारा उद्देश्य केवल और केवल भाजपा को सत्ता से हटाना है। इसके लिए हमें जो भी करना होगा वह हम करेंगे। इसीलिए हमने अपनी पार्टी का समाजवादी पार्टी में विलय का प्रस्ताव भी रखा है। उन्होंने कहा कि हमारी कोई शर्त नहीं है। बस, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव हमारे लोगों को सम्मान करते हुए, उन्हें उत्तर प्रदेश की सीटों से टिकट दे दे, जो हमारे जिताऊ उम्मीदवार हैं। इसके अतिरिक्त मुझे और कुछ भी नहीं चाहिए।

वहीं उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा ने आज तक अपने संकल्प पत्र का एक भी वादा पूरा नहीं किया। जनता महंगाईज़ बेरोजगारी और बेकार कानून व्यवस्था से त्रस्त है। प्रदेश में हत्याएं आम है। डर का माहौल आम है। प्रदेश की जनता तमाम तरह की समस्याओं से ग्रस्त है। हम जनता का दर्द जाने के लिए ही यह रथयात्रा लेकर निकलें हैं। हम आधा उत्तर प्रदेश घूम चुके हैं और आगे के चरणों में पूरा प्रदेश घूमेंगे। इस दौरान हमें भारी जन समर्थन भी मिल रहा है। हम भारतीय जनता पार्टी को हटाने के लिए हर तरह का त्याग कर सकते हैं।

रिपोर्ट – योगेन्द्र त्रिपाठी, बलरामपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published.