रक्षा मंत्री और सीएम योगी करेंगे महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण तैयारी पूरी।

महराजगंज: ब्रह्मलीन गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवेद्यनाथ की पुण्यस्मृति कार्यक्रम में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को महराजगंज जिले में मौजूद रहेंगे। इनके साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी भी मौजूद रहेंगे। यहां गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवैद्यनाथ महाविद्यालय चौक में महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण करेंगे।

जिसको लेकर जिला प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है इसी सिलसिले में पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने कार्यक्रम स्थल पर पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था में लगे कर्मियों की ब्रीफिंग की, इस कार्यक्रम को लेकर जोर शोर से तैयारियां चल रही हैं, केन्द्रीय मंत्री और स्थानीय सांसद पंकज चौधरी गुरुवार को ही महराजगंज पहुंच गए हैं।

महंत अवेद्यनाथमहंत अवेद्यनाथ और योगी आदित्यनाथ योग और दर्शन के मर्मज्ञ पीठाधीश्वर के रूप में उन्होंने अपने गुरुदेव के लोक कल्याणकारी व सामाजिक समरसता के आदर्शों का फलक और विस्तारित किया। यह सिलसिला 2014 में आश्विन कृष्ण चतुर्थी को उनके चिर समाधिस्थ होने तक अनवरत जारी रहा, अयोध्या में प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए गोरक्षपीठ की तीन पीढ़ियों का योगदान स्वर्णाक्षरों में अंकित है। महंत दिग्विजयनाथ ने अपने जीवनकाल में मंदिर आंदोलन में क्रांतिकारी नवसंचार किया तो उनके बाद इसकी कमान संभाली महंत अवेद्यनाथ ने, नब्बे के दशक में उनके ही नेतृत्व में श्रीराम मंदिर आंदोलन को समग्र, व्यापक और निर्णायक मोड़ मिला। आंदोलन की ज्वाला गांव-गांव तक प्रज्वलित हुई।

महंत अवेद्यनाथ ने श्रीराम जन्मभूमि मुक्ति यज्ञ समिति और श्रीराम जन्मभूमि निर्माण उच्चाधिकार समिति के अध्यक्ष के रूप में आंदोलन में संतो, राजनीतिज्ञों और आमजन को एकसूत्र में पिरोया। यह भी सुखद संयोग है कि पांच सदी के इंतजार के बाद अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण का मार्ग उनके शिष्य योगी आदित्यनाथ की देखरेख में प्रशस्त हुआ है। डोमराजा के घर संतों के साथ भोजन कर कायम की सामाजिक समरसता की मिसालमहंत अवैद्यनाथ वास्तविक अर्थों में धर्माचार्य थे।

रिपोर्ट – कार्तिकेय पांडे

Leave a Reply

Your email address will not be published.