राकेश वर्मा मेरे छोटे भाई, जीवन की अंतिम सांस तक समाजवादी रहूंगा- अरविंद सिंह गोप

रामनगर का टिकट, संघर्ष बड़ा विकट

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री अरविंद सिंह गोप ने द इंडियन ओपिनियन से खास बातचीत में कई गंभीर विषयों पर खुलकर अपने विचार रखे। उन्होंने कहा कि “भारतीय जनता पार्टी के मायावी नेताओं ने देश और प्रदेश की भोली-भाली जनता को गुमराह करके झूठे प्रलोभन में फंसा कर सत्ता हासिल करने का काम किया लेकिन जनता को अब यह समझ में आ चुका है कि उत्तर प्रदेश और देश को भाजपा की सरकार ने सिर्फ पीछे धकेलने का काम किया है”

रामनगर विधानसभा के टिकट को लेकर चल रही खींचतान के बारे में पूर्व मंत्री अरविंद सिंह गोप कहते हैं कि स्वर्गीय बेनी प्रसाद वर्मा उनके नेता थे और पार्टी के संस्थापक सदस्य थे इसलिए वहां उनका बहुत सम्मान करते हैं और उनके पुत्र राकेश वर्मा को वह अपना छोटा भाई मानते हैं उन्हें राकेश वर्मा या पार्टी के किसी भी नेता से कोई दिक्कत नहीं है वह पार्टी के सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं के शुभचिंतक हैं । बाराबंकी की रामनगर विधानसभा उनका परिवार है रामनगर के लोग उनके परिवार के सदस्य हैं और रामनगर की जनता के लिए सरकार में मंत्री रहते हुए उन्होंने पूरी ताकत से काम किया है रामनगर में विकास के बहुत से काम लोगों को साफ दिखाई पड़ते हैं और 2022 में रामनगर की जनता ही नहीं बल्कि पूरे जिले और पूरे प्रदेश की जनता प्रचंड बहुमत के साथ अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए ईवीएम मशीन का बटन इतनी जोर से दब आएगी कि भारतीय जनता पार्टी की घमंडी सरकार का पतन हो जाएगा।

अरविंद सिंह गोप कहते हैं कि समाजवादी पार्टी उनके जीवन की पहली और अंतिम पार्टी है उन्होंने छात्र जीवन से ही नेताजी मुलायम सिंह यादव को अपना आदर्श माना और जीवन पर्यंत उनका ही अनुसरण करेंगे अखिलेश यादव उनके नेता हैं और जीवन भर अखिलेश यादव ही उनके नेता रहेंगे अरविंद सिंह गोप कहते हैं पार्टी कोई भी फैसला करें वह पूरी निष्ठा से पार्टी के हर फैसले का सम्मान करेंगे उनके लिए विधायक या मंत्री होना महत्वपूर्ण नहीं है उनके लिए समाजवादी पार्टी का सिपाही होना महत्वपूर्ण है और वह पहले भी द इंडियन ओपिनियन के कैमरे पर यह बात कह चुके हैं कि समाजवादी पार्टी उनके जीवन की पहली और अंतिम पार्टी है वह अंतिम सांस तक समाजवादी पार्टी की सेवा करते रहेंगे देश के लोगों की सेवा करते रहेंगे।

द इंडियन ओपिनियन
बाराबंकी

Leave a Reply

Your email address will not be published.