लैब टेक्नीशियन हड़ताल पर, ठप रही जांच सुविधाएं! आश्वासन के बाद धरना स्थगित

हड़ताल पर बैठे कर्मचारी

◆साथी की पिटाई से आक्रोशित कर्मियों ने किया प्रदर्शन
◆सीएमओ ने लिखा पत्र, दिया कार्यवाही का आश्वासन!
◆ काम पर लौटेंगे टेक्नीशियन, जिला मंत्री ने कहा नही होगी कार्यवाही तो फिर आंदोलन के लिए बाध्य

बाराबंकी। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिरौलीगौसपुर में बीते 21 सितंबर को लैब टेक्नीशियन की पिटाई से आक्रोशित यूपी लैब टेक्नीशियन एशोशिएसन द्वारा सोमवार को हड़ताल शुरू कर दी। सभी लैब टेक्नीशियन सोमवार को सीएमओ कार्यालय में एकत्र हुए और प्रदर्शन शुरू कर दिया। आरोपी की गिरफ्तारी न होने तक अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी। जिससे जिला अस्पताल समेत सभी सीएचसी व पीएचसी पर जांच की सुविधाएं ठप रहीं।

जिला मंत्री दीपक

संगठन के अध्यक्ष श्याम सुंदर पटेल ने कहा कि कर्मचारी मरीजों की सेवा करने के स्वास्थ्य कर्मचारी कोरोना कॉल में भी सक्रिय रहे। सिरौलीगौसपुर सीएचसी में तैनात एलटी रवि प्रकाश ने बीते मंगलवार को भाजपा कार्यकर्ता पुष्पेंद्र शुक्ल को सिर्फ मास्क लगाने के लिए टोका था। जिस पर पुष्पेंद्र शुक्ल ने साथियों के साथ मिलकर कर्मचारी की पिटाई कर दी। जिसको लेकर सीएमओ, डीएम व एसपी को ज्ञापन सौंप कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की गई थी। लेकिन अधिकारियों ने इस संबंध में कठोर कदम नहीं उठाए। जिससे आक्रोशित जिले भर के एलटी कर्मचारियों सीएमओ कार्यालय पर कार्य बहिष्कार कर हड़ताल शुरू की है। श्री पटेल ने कहा कि जब तक आरोपी व उसके साथियों की गिरफ्तारी व मेडिकल प्रोटेक्सन एक्ट एवं कोविड महामारी अधिनियम के तहत, सरकारी कार्य में बाधा के साथ कर्मचारी से मारपीट का मुकदमा न दर्ज नहीं होगा तब तक हड़ताल जारी रहेगी।

हड़ताल से जिला अस्पताल की पैथोलॉजी समेत सभी सीएचसी व पीएचसी पर जांच प्रभावित रही। जिससे मरीजों को भटकना पड़ा। वहीं कर्मचारियों के समर्थन में विकास भवन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष मुस्तफा खान भी उतर पड़े। श्री खान ने कहा कि सरकारी कर्मचारियों के सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं होगा। आज एलटी रवि प्रकाश को निशाना बनाया गया है कल हम लोग भी इसकी जद में आ सकते हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी शीघ्र न हुई तो विकास भवन संघ के कर्मचारी भी आंदोलन करेंगे। इस मौके पर पीडि़त रवि प्रकाश, वकार अहमद, अनिल श्रीवास्तव, दीपक वर्मा, अरविंद कुमार, सुरेश चंद्र वर्मा, प्रकाश वर्मा, राजाराम रावत, शोभनाथ, आरबी सिंह, अमरीश कुमार, सरेंद्र वर्मा, आदि मौजूद रहे।  

Chief Medical Officer

वही सीएमओ ने द इंडियन ओपिनियन से बात करते हुए बताया कि उनके स्तर से उच्चाधिकारियों को पत्र लिखा गया है जिसपर उन्हें कार्यवाही का आश्वासन मिला है।

आंदोलन के कारण पूरे जिले में जांच कार्य प्रभावित रहा जिसके चलते मुख्य चिकित्साधिकारी ने संगठन को पत्रालेख करते हुए अवगत कराया कि उनके स्तर से जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक से पत्राचार किया गया जिसका संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक बाराबंकी ने सम्बंधित दोषियों के विरुद्ध समुचित धाराओं में कार्यवाही करने हेतु प्रभारी निरीक्षक को निर्देशित किया गया है। वही सीएमओ ने लैब टेक्नीशियन संघ के पदाधिकारियों से कार्य पर वापस लौटने की अपील की जिसके क्रम में संघ जिला मंत्री दीपक ने बताया की मुख्य चिकित्सा अधिकारी के आश्वासन के बाद धरना स्थगित कर दिया गया और समस्त कर्मचारी कार्य करेंगे लेकिन भविष्य में दोषी पर कार्यवाही न होने पर संगठन पुनः आंदोलन के लिए बाध्य होगा।

नितेश मिश्रा के साथ शोभित मिश्रा की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.