सतीश बने जनहित एकता संगठन के अध्यक्ष!

बाराबंकी: जनहित एकता संगठन की एक बैठक शहर के कंचन पैलेस बाराबंकी में दिनेश सिंह की अध्यक्षता में की गयी। उक्त बैठक में शहर व ग्रामीणों ने सैकड़ों की संख्या में बढ़-चढ़ कर भाग लिया। संगठन के पदाधिकारियों द्वारा सतीश कुमार को जिलाध्यक्ष बनाकर फूल मालाओं से भव्य स्वागत किया गया।

जिलाध्यक्ष सतीश कुमार ने आये हुए कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जो जिम्मेदारी सौपी गयी है संगठन को मजबूत करेगें व समाज में दबे कुचले व्यक्तियों को न्याय दिलाने में हमेशा तैयार रहेंगे।

उपस्थित प्रतिनिधियों ने अपनी-अपनी समस्याओं को रखा हाजी सलीम ने बताया कि शहर के मोहल्ला हनुमन्त नगर, शान्ती विहार, जशवन्त नगर, लौताबाग, गुलस्ताने शेर, नबीगंज में रोड व नाला सफाई न होने के कारण घरों व रोड़ों पर पानी भरा हुआ है। दिनेश सिंह ने कहा कि हजाराबाग खलरिया मोहल्ले में वर्तमान समय में घाघरा जैसा जल भराव भरा हुआ है अनेक प्रकार के कीड़े पानी में तैर रहे है। मोहल्ले के लोग भयभीत है किसी भी दल के नेता व प्रशासनिक अधिकारीगण ठोस कदम नही उठा रहे है।

श्याम सुन्दर ने कहा कि नगर पालिका, नगर पंचायत व ब्लाक क्षेत्र के समस्त गांव में केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार करोड़ो रूपये विकास के लिए देती है नेतागण व भ्रष्ट अधिकारीगण विकास के नाम पर बन्दर बाट कर लेते है। वर्तमान में लगातार बारिस का महौल बना हुआ है किसी भी दल के नेता आम जनता की समस्या सुनने को तैयार नही है 2022 के चुनाव में जगह जगह अपने अपने दल के लाखों रूपये के पोस्टर लगाकर प्रचार प्रसार कर रहे है।

संगठन के संस्थापक/अध्यक्ष अकबर शाह ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि लगातार विकास के मुद्दों को लेकर संगठन आर पार के लिए संघर्ष कर रहा है जमुरिया नदी को भू-माफियाओं ने बेच कर अवैध कब्जा करवा दिया है तथा कई प्राइवेट स्कूल जमुरिया नदी के ग्रीन बेल्ट में व कई मकान जमुरिया नदी के बीचों बीच में बने हुए है उसको तत्काल मुक्त कराया जाये। शहर से लेकर गांव तक प्राइवेट नर्सिंग होम व मेडिगल स्टोर बिना लाइसेन्स के अधिकारियों की मिली भगत से संचालित है। लगातार आवाज उठाने पर फर्ज अदायगी करके चले आते है लगभग दो दर्जन नर्सिंग होम पर छापे पड़े रिनिवल के नाम पर सुविधा शुल्क लेकर मामले को रफादफा कर रहे है।

इस अवसर पर मुख्य रूप से भानू प्रताप सिंह, साबान, लक्षमीनारायन, रामकुवर यादव लोकतंत्र सेनानी, श्याम सुन्दर, राधेश्याम, अशोक, पुतान सिंह, प्रमोद, मेराज, मोहम्मद पप्पू, सुहेल भाई, दिनेश सिंह, आशीष तिवारी, राधेश्याम रावत आदि लोग सैकड़ों की संख्या में उपस्थित रहें।

रिपोर्ट- मोहित शुक्ला

Leave a Reply

Your email address will not be published.