सीएम योगी ने आज राजधानी लखनऊ में राज्य संपत्ति विभाग के गेस्ट हाउस ‘नैमिषारण्य’ का उद्घाटन किया।

लखनऊ: इस अवसर पर सीएम ने कहा कि यह राज्य सरकार के लिए एक उपलब्धि है। अभी तक राज्य सरकार के मेहमानों को होटल में ठहराना पड़ता था पर अब उनके लिए अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त गेस्ट हाऊस उपलब्ध होगा।

इतना ही नही सीएम ने कहा कि अब राज्य सरकार को अपने अतिथियों को रुकवाने में किसी का मुंह नहीं देखना पड़ेगा। इसके साथ ही अब सरकार के धन की भी बड़ी बचत होगी। इस अतिथि गृह का नामकरण नैमिषारण्य करने के पीछे सीएम ने तर्क दिया कि इससे यहां आने वाले मेहमान पवित्र तीर्थ स्थल नैमिषारण्य जाने के लिए भी प्रेरित होंगे।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने नैमिषारण्य शब्द का महत्व बताते हुए कहा कि यह नाम मां ललीता देवी से जुड़ा हुआ है। आगे उन्होंने कहा कि यूपी देश की आध्यात्मिक ऊर्जा का केंद्र है। पहचान के अनुरूप गेस्ट हाउस का नाम भी धर्म व संस्कृति से जुड़ा हुआ रखा गया है। इन नामों से प्रदेश को पहचान मिलती है। गेस्ट हाउस में धर्मिक स्थल की अनुभूति हो। यह जनप्रतिनिधियों के लिए एक उपलब्धि है। यहां नैमिषारण्य का चित्र भी लगाया जाना चाहिए। इस अतिथि गृह में सात मंजिला भवन में 73 कमरे बनाये गए हैं। प्रदेश में पहले से 9 अतिथि गृह संचालित हैं।

सीएम ने कहा कि किसी भवन या संपत्ति को खड़ा कर देना या बना देना बहुत महत्व की बात नहीं है जरूरी यह है कि उसका अच्छा रखरखाव किया जाए। उन्होंने राज्य संपत्ति विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि वह इस नवनिर्मित अति विशिष्ट अतिथि गृह के व्यवस्थित संचालन के लिए कार्य योजना बनाकर उसे आगे बढ़ाएं।


इस मौके पर विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि अतिथि गृह को पांच सितारा होटल से बेहतर बनाया गया है। नैमिषारण्य का नाम देने का निर्णय अच्छा है। नैमिषारण्य से धर्म व संस्कृति का संदेश दुनिया में जाता है। हम प्रदेश को फिर ऐसी सरकार देंगे जिसे दुनिया देखेगी।

दिल्ली में सरदार पटेल मार्ग पर स्थित उत्तर प्रदेश भवन नई दिल्ली का नाम उत्तर प्रदेश भवन ‘संगम’ नई दिल्ली किया गया है। इसी तरह चाणक्यपुरी स्थित उत्तर प्रदेश सदन नई दिल्ली का नाम उत्तर प्रदेश सदन ‘त्रिवेणी’ नई दिल्ली किया गया है। राज्यसंपति विभाग ने लखनऊ के भी अति विशिष्ट अतिथि गृह, लखनऊ का नाम अति विशिष्ट अतिथि गृह ‘साकेत’ लखनऊ करने का फैसला किया है। लखनऊ के विक्रमादित्य मार्ग पर बने राज्य अतिथि गृह नया नाम ‘गोमती’ कर दिया गया है। मीरा बाई मार्ग पर स्थित राज्य अतिथि गृह अब ‘सरयू’ नाम से जाना जाएगा। अति विशिष्ट अतिथि गृह, बटलर पैलेस का नया नाम ‘’नैमिषारण्य’’ किया गया है।

रिपोर्ट आरडी अवस्थी

Leave a Reply

Your email address will not be published.