आगरा निगम में आज ऐतिहासिक धरोहर ताजमहल का नाम बदलकर तेजो महालय करने का प्रस्ताव पेश किया जाएगा-

आगरा के ताजमहल का नाम बदलने की एक बार फिर से मांग उठी है। आगरा में बीजेपी पार्षद ने ये मांग उठाई है। भाजपा पार्षद शोभाराम राठौर दोपहर के समय नगर निगम सदन के अधिवेशन में इस प्रस्ताव को पेश करेंगे और नाम बदलने को लेकर समर्थन जुटाएंगे। बता दें कि इससे पहले नगर निगम कई सड़कों और चौराहों के नाम बदल चुका है।

पहले भी ताजमहल के नाम को बदलने की मांग उठ चुकी है। इसे लेकर कई तरह के दावे किए जाते रहे हैं। कुछ लोगों का दावा है कि ताजमहल की जगह पहले शिव मंदिर था। योगी सरकार की तर्ज पर आगरा निगम में साढ़े चार वर्ष में 80 से अधिक सड़क और स्थानों के नाम बदल चुके हैं। वहीं आज यानी बुधवार को ऐतिहासिक धरोहर ताजमहल का नाम परिवर्तित कर तेजो महालय करने का प्रस्ताव पेश किया जाएगा।

इस मामले में अधिकारी मौन हैं, लेकिन मेयर का कहना है कि प्रस्ताव आया है। ये प्रस्ताव आज सदन में पढ़ा जाएगा। एक अगस्त को ही ताजमहल को भगवान शिव का मंदिर बताते हुए अखिल भारत हिंदू महासभा ने ताज हेरिटेज कॉरिडोर पर सांकेतिक जलाभिषेक भी किया था। महासभा ने इसकी घोषणा पहले ही कर दी थी। जिसके बाद पुलिस ने महासभा के पदाधिकारियों को नजरबंद कर दिया था।

इस संबंध में पार्षद शोभाराम राठौर ने बताया कि उन्होंने प्रस्ताव संख्या 4(7) में इस संबंध में कई तथ्य एकत्रित किए हैं। उन्हीं तथ्यों के आधार पर ताजमहल का नाम बदलकर तेजो महालय करने का प्रस्ताव नगर निगम के सदन में पेश किया जाएगा।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.