पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में सिख लड़की का अपहरण कर उसका जबरन निकाह कर दिया,भारतीय विदेश मंत्रालय से दखल देने की मांग-

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों में अत्याचार कम नहीं हो रहे हैं। कहीं अल्पसंख्यकों की हत्याएं हो रही हैं तो कहीं लड़कियों के धर्म परिवर्तन कराकर उनका जबरदस्ती निकाह करा दिया जा रहा है। ताजा मामला पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में शनिवार को सिख लड़की दीना कौर को किडनैप करके उसका जबरी निकाह करा दिया गया। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में रहने वाले गुरबचन सिंह की बेटी दीना कौर टीचर है। शनिवार सुबह वह स्कूल जाने के लिए अपने घर से निकली।
स्कूल पहुंचने से पहले ही रास्ते में उसका अपहरण कर लिया गया। इसके बाद उसका धर्म बदलवाकर जबरन निकाह करवा दिया गया।

इस मामले में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) अमृतसर ने कड़ी निंदा की है। SGPC प्रधान एडवोकेट हरजिंदर सिंह धामी ने भारत सरकार से डेलिगेशन भेज कर परिवार से मिलने और पाक सरकार से परिवार को इंसाफ दिलाने की मांग की है। सिरसा ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से आग्रह किया कि वे इस मामले को तुरंत अपने पाकिस्तानी समकक्ष के साथ उठाएं। सिरसा ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि दीन कौर को उनके पास सुरक्षित लौटाया जाए।

बीजेपी नेता सिरसा ने कहा कि, “पाकिस्तान में अल्पसंख्यक सिख, हिंदू और अन्य समुदाय की लड़कियों का अपहरण, मतांतरण और फिर अपहरणकर्ताओं के साथ शादी करना आम बात हो गई है।

वहीं दीना कौर के अपहरण होने का पता चलने पर जब गुरबचन सिंह और इलाके के लोग पुलिस के पास गए तो पुलिस ने लड़की के धर्म परिवर्तन की बात कहते हुए उन्हें चुप रहने को कहा। पुलिस अफसरों ने गुरबचन सिंह की एफआईआर तक दर्ज नहीं की।जिसके विरोध में सिख समुदाय सड़कों पर प्रदर्शन कर रहा है।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.