चीन के रिसॉर्ट शहर में कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से अचानक लॉकडाउन लगा दिया गया-

कोरोना का सबसे पहला मामला चीन में सामने आया था। जिसके कुछ दिनों बाद ही यह वायरस पूरी दुनिया में फैल गया और जो हाल हुआ उससे हम सभी वाकिफ हैं।
हालांकि अब कोरोना का प्रकोप कुछ कम है लेकिन चीन में चिंता फिर से बढ़ने लगी है। चीन के एक शहर में फिर से कोरोना के मामले आने लगे हैं, जिसके बाद चीनी सरकार ने पूरे शहर में लॉकडाउन लगा दिया।

कोविड-19 के मरीज बढ़ने पर चीन के सान्या शहर में सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। लॉकडाउन लगने से यहां और रिसॉर्ट शहर में 80 हजार से ज्यादा टूरिस्ट फंस गए हैं। लॉकडाउन में किसी को भी बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। रविवार को सान्या शहर में कोरोना के 483 मरीज सामने आए। एक ही दिन में इतने मरीज मिलने के बाद आनन फानन में स्थानीय प्रशासन ने पूरे शहर में लॉकडाउन लगाने का फैसला किया।

अधिकारियों ने कहा- अगर टूरिस्ट की 7 दिन में 5 पीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आती है तो वे अपने अपने घर वापस जा सकते हैं। साथ ही कहा कि शहर के सभी होटल टूरिस्टों को 50 प्रतिशत छूट देंगे। इसके साथ ही अचानक बढ़ते मामलों को देखते हुए विदेश से आने वाली सभी फ्लाइटों को रद्द कर दिया गया है और ट्रेन के टिकट भी मिलने बंद हो गए हैं। जिस वजह से स्थानीय निवासियों समेत टूरिस्टों की चिंता बढ़ गई है।

चीन सरकार कोरोना को खत्म करने के लिए लंबे समय से सख्ती कर रही है, लेकिन उसकी तमाम सख्ती के बाद भी कोरोना दस्तक देकर उसकी परेशानी बढ़ा रहा है।चीन की जीरो कोविड पॉलिसी भी सफल होती नहीं दिख रही है। चीनी सरकार टूरिस्टों और देश के नागरिकों से अपील कर रही है कि कोरोना गाइडलाइंस का पालन करें और कोरोना से छुटकारा पाने में हमारी मदद करें। सान्या शहर की आबादी 10 लाख से ज्यादा है। देश के दक्षिणी तट पर स्थित हैनन प्रांत की राजधानी सान्या एक टूरिस्ट स्पॉट है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.