उत्तर प्रदेश में ईडी यानी प्रवर्तन निदेशालय ने आज माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ लिया बड़ा एक्शन-

जेल में बंद उत्तरप्रदेश के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी के दिल्ली, लखनऊ और गाजीपुर के ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय की टीमों ने छापा मारा। मुख्तार और उसके भाई बसपा सांसद अफजाल अंसारी के मुहम्मदाबाद स्थित आवास पर आज (गुरुवार) सुबह ED की टीमें पहुंची। प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने गाजीपुर के मिश्रबाजार, टाउन हाल के सराय गली, रौजा और मुहम्मदाबाद में छापेमारी की है।

मुख्तार अंसारी के पैतृक आवास के साथ ही उसके कई करीबियों के आवास पर ईडी ने एक साथ छापेमारी की है। गाजीपुर में ईडी सुबह 6.30 बजे मुख्तार अंसारी के आवास पहुंची। यह पैतृक आवास मुहम्मदाबाद के दर्जी टोला में है। ईडी के साथ सीआरपीएफ की एक टुकड़ी भी पहुंची थी। ईडी टीम ने खान बस सर्विस के मालिक के ठिकानों पर भी छापा मारा है। ईडी के इस एक्शन से गाजीपुर में हड़कंप मच गया है।

सूत्रों की मानें तो दिल्ली और यूपी मिलाकर बाहुबली मुख्तार अंसारी और उसके करीबियों से जुड़े 11 ठिकानों पर ईडी की छापेमारी जारी है। मुख्तार अंसारी के परिवार के सदस्यों, सीए और करीबी सहयोगियों के यहां भी रेड चल रही है। इससे पहले मुख्तार पर बड़ा खुलासा हुआ है। पंजाब सरकार ने हाल ही में मुख्तार अंसारी के जेल में बंद होने पर वीवीआईपी ट्रीटमेंट देने के आरोप में जांच के आदेश दिए थे।

पंजाब की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने मुख्तार का केस लड़ने के लिए सुनवाई के लिए वकील को लगाया था। वकील पर 55 लाख रुपए खर्च किए थे। मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने माफिया से राजनेता बने मुख्तार अंसारी और उसके गिरोह के सदस्यों द्वारा संचालित भूमि हथियाने और अवैध व्यवसायों से संबंधित कई मामलों के आधार पर 1 जुलाई, 2021 को धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) यानी मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.