योगी राज में भी नहीं सुरक्षित हिंदू बेटियां,दो बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या तनाव!

योगी सरकार के दावों के बावजूद उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति चिंताजनक बनी हुई है ..लखनऊ के बगल में स्थित लखीमपुर खीरी जिले में तीन बाइक सवार बदमाशों ने सरेआम दिनदहाड़े दो नाबालिग बहनों को अगवा करके उनकी हत्या कर दी. दो हिंदू लड़कियों को यहां पर अगवा करके मार दिया गया है उनके परिजनों ने बलात्कार के बाद हत्या का आरोप लगाया है घटना के मुख्य आरोपी जुनेद को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है जुनैद के साथी आरिफ सोहेल छोटू समेत कुल 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है घटना दो समुदायों के बीच की होने की वजह से मामले में सांप्रदायिक तनाव भी फैल गया है लोगों ने इस मामले में पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन भी किया है और आरोपियों को कठोरतम सजा देने की मांग की है।

घटना निघासन थाना क्षेत्र के लालपुर अमोली पुरवा गांव की है जहां बाइक सवार तीन बदमाशों ने दिनदहाड़े दो दलित परिवार की सगी बहनों को अगवा कर लिया..

गांव के लोग जब बेटियों की तलाश में जुटे, तो गन्ने के खेत के बीच इन एक पेड़ पर दोनों बच्चियों के शव लटकते हुए पाए गए बच्चों के नाम मनीषा और पूजा है जिनकी उम्र 15 साल और 17 साल के आसपास है ।

घटना के वायरल वीडियो में साफ दिख रहा है की बेरहमी से बच्चियों की हत्या कर दी गई और एक ही दुपट्टे से दोनों बच्चियों को पेड़ पर लटका दिया गया बच्ची की मां ने बताया कि उसके सामने ही बदमाश उनकी बेटियों को अगवा कर ले गए और वह चीखती चिल्लाती रह गईं।

इस घटना के बाद उत्तर प्रदेश में कानून के राज पर बड़ा सवाल खड़ा हो गया है वहीं लखीमपुर खीरी पुलिस की कार्यशैली भी सवालों के घेरे में है और सबसे बड़ा सवाल यह है कि योगी सरकार लगातार राजनीतिक माफियाओ के खिलाफ ठोस कार्रवाई कर रही है लेकिन प्रोफेशनल क्रिमिनल हैऔर आपराधिक मानसिकता के लोगों पर कार्रवाई का कोई असर नहीं है ।

दूसरी तरफ सरकार को यह भी देखना चाहिए कि किन कारणों की वजह से अपराध और अराजकता की मानसिकता नौजवानों में बढ़ती जा रही है इस दर्दनाक घटना के बाद पूरे जिले में शोक की लहर है और लोग अपराधियों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही की मांग कर रहे हैं.

सुनिए घटना के प्रत्यक्षदर्शी बच्ची की मां क्या कह रही है जिसके सामने उसकी बच्चियों को अगवा करके मार दिया गया।।।।

वहीं जिले के पुलिस अधीक्षक का भी बयान भी आपको सुनाते हैं।।

लखीमपुर खीरी से द इंडियन ओपिनियन के लिए अजय कुमार सिंह की रिपोर्ट |

Leave a Reply

Your email address will not be published.