सदरपुर के फत्तेपुरवा में एक मां अपने बच्चे को बचाने के लिए चोरों से भिड़ गई-

बच्चा चोर समझकर दो लोगों ने एक युवक की पिटाई कर दी। गंभीर चोटों के कारण उसकी मौत हो गई। इस पर बदमाश ने उनको ईंट मारकर जख्मी कर दिया और भाग गए। घायल को 18 घंटे बाद भी होश नहीं आया था। पुलिस को तहरीर का इंतजार है।

थानाध्यक्ष रामपुर कला जितेन्द्र सिंह की मानें तो मनोज और उमेश शराब पिये हुए थे। इन लोगों ऊदन और उसके साथियों को बच्चा चोर समझ लिया और फिर ऊदन की पिटाई कर दी। ऐसे में ऊदन के साथ मौके से भाग निकलेऔर उन लोगों ने घर पहुंचकर परिवार वालों को पूरी जानकारी दी और पुलिस को सूचना दी।

परिवारजन के अनुसार रात करीब 11 बजे मीरा देवी शौच के लिए शौचालय गई थीं। रूपा उठी और बेटे को टिनशेड के नीचे लिटाने चल दीं। इसी बीच एक महिला और युवक वहां आ गए और रूपा से उनके बेटे आयुष को छीनने की कोशिश करने लगे। बेटे पर संकट देख रूपा दोनों से भिड़ गईं और शोर मचाया।

सूचना पर डायल 112 की टीम भी गांव पहुंची। जख्मी रूपा को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र महमूदाबाद लाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार केे बाद घर भेज दिया गया। अभी बेसुध हैं।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

Leave a Reply

Your email address will not be published.