जानिए किन स्टेशनों पर दिल्ली-वाराणसी बुलेट ट्रेन को मिली मंजूरी-

दिल्ली और वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन (Delhi Varanasi Bullet Train) के गौतमबुद्ध नगर में दो स्टेशन बनाए जाएंगे। दिल्ली-एनसीआर और उत्तर प्रदेश की रफ्तार अब और बढ़ने वाली है। दिल्ली वाराणसी बुलेट ट्रेन को लेकर बड़ा अपडेट आया है, जिसमें बुलेट ट्रेन के रूट को फाइनल कर लिया गया है।


रेलवे मंत्रालय ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। यह प्रस्ताव करीब एक साल पहले नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने रेलवे मंत्रालय को भेजा था।
यह ट्रेन दिल्ली में सराय काले खां से शुरू होगी पहला ठहराव नोएडा और फिर दूसरा ग्रेटर नोएडा में होगा। दिल्ली-वाराणसी बुलेट ट्रेन के 816 किमी संभावित रूट में कुल 13 स्‍टेशन होंगे. इनमें से 12 स्टेशन उत्तर प्रदेश में होंगे, जबकि एक स्टेशन दिल्ली में अंडरग्राउंड होगा।


यह बुलेट ट्रेन मथुरा, आगरा, इटावा, कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज होते हुए वाराणसी तक 816 किमी की दूरी 4 घंटे में तय करेगी। अभी ट्रेन से यह सफर करने में 12-15 घंटे तक लग जाते हैं।
यमुना अथॉरिटी के सीईओ अरुणवीर सिंह ने बताया कि दुनियाभर से नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट आने वाले विमान यात्रियों को हाईस्पीड रेल का फायदा मिलेगा।
बताया जा रहा है कि वाराणसी- दिल्‍ली बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट की लागत तकरीबन 2.3 लाख करोड़ रुपये होगी।
इसके साथ ही यमुना एक्सप्रेसवे के सामांतर एलिवेटेड ट्रैक बनाने के लिए यमुना अथॉरिटी ने फ्री में जमीन दी है। हाईस्पीड रेल परियोजना को 3 चरणों में पूरा किया जाएगा।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

Leave a Reply

Your email address will not be published.