प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर घर जल उत्सव कार्यक्रम को संबोधन, कहा 10 करोड़ ग्रामीण परिवारों को पाइप के जरिए जल पहुंचाया-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर घर जल उत्सव कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पानी बचाना दुनिया की सबसे बड़ी चुनौती है। हमारी सरकार जल सुरक्षा पर कपर काम कर रही है। हमने अलग से जलशक्ति मंत्रालय का गठन भी किया। पीएम ने बताया कि हर घर जल पहुंचाने वाला गोवा पहला राज्य बना है।

पीएम मोदी ने कहा कि जब हर घर जल पहुंचता है तो सबसे अधिक लाभ बहनों और भावी पीढ़ी को होता है, कुपोषण के खिलाफ लड़ाई मजबूत होती है. इसलिए मिशन के केंद्र मिशन के केंद्र में बहन-बेटियां ही हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि आजादी के 7 दशकों में देश के सिर्फ 3 करोड़ ग्रामीण परिवारों के पास ही पाइप से पानी की सुविधा उपलब्ध थी।

जब हमारी पार्टी सरकार में आई तब 16 करोड़ ग्रामीण परिवार ऐसे थे, जिन्हें पानी के लिए बाहर के स्त्रोतों पर निर्भर रहना पड़ता था। इतनी बड़ी आबादी को संघर्ष करते नहीं छोड़ सकते थे, इसलिए हमने लालकिले से घोषणा की थी कि हर घर जल पहुंचाया जाएगा। इसको लेकर 3 लाख 60 हजार करोड़ रुपये खर्च किये जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत हमारी सरकार ने 10 करोड़ ग्रामीण परिवारों को पाइप के जरिए जल पहुंचाया है। इसके अलावा बीते 3 साल में 7 करोड़ ग्रामीण परिवारों को पाइप के जरिए पानी की सुविधा पहुंचाई गई है, ये सामान्य उपलब्धि नहीं है। प्रधानमंत्री ने बीती सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछली सरकारें सिर्फ बातें करती थीं, काम नहीं करती थी। हमारी सरकार ने काम करके दिखा दिखाया है।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

Leave a Reply

Your email address will not be published.