पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने राज्य के पूर्व फूड सप्लाई मिनिस्टर और कांग्रेसी नेता भारत भूषण आशू को सोमवार देर शाम किया गिरफ्तार-

पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने राज्य के पूर्व फूड सप्लाई मिनिस्टर और कांग्रेसी नेता भारत भूषण आशू को सोमवार देर शाम गिरफ्तार कर लिया। आशू को ट्रांसपोर्टेशन टेंडर घोटाले में गिरफ्तार किया गया। आशू को विजिलेंस टीम ने उस समय दबोचा जब वह एक सैलून में बाल कटवाने गए थे। इस दौरान लुधियाना के कांग्रेसी सांसद रवनीत सिंह बिट्‌टू भी आशू के साथ मौजूद थे। आशू की गिरफ्तारी के समय बिट्‌टू विजिलेंस अधिकारियों से भिड़ गए।

भारत भूषण आशू ने HC में पिटीशन दायर की थी। जिसमें गिरफ्तारी से पहले 7 दिन के नोटिस की मांग की थी। हालांकि आज सुबह ही आशू ने यह पिटीशन वापस ले ली। उन्होंने नए सिरे से पिटीशन दायर करने की छूट मांगी।

पंजाब कांग्रेस ने चंडीगढ़ में विजिलेंस के डायरेक्टर के ऑफिस के बाहर धरना दिया था। इस दौरान आशू ने चैलेंज किया था कि वह यहां मौजूद हैं, विजिलेंस गिरफ्तार कर ले। उस वक्त विजिलेंस ने कोई एक्शन नहीं लिया। विजिलेंस अधिकारियों ने पूरी प्लानिंग के तहत रेड कर आशू को गिरफ्तार किया। राज्य की मंडियों में गेहूं की लोडिंग-अनलोडिंग से जुड़े टेंडर घोटाले में गिरफ्तार ठेकेदार ने आशू का नाम लिया था। उसके बाद से आशू विजिलेंस के रडार पर थे।

इस मामले में करीब 2 महीने पहले कुछ ट्रांसपोर्ट मालिकों व ठेकेदारों की ओर से उस समय के कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशू पर कुछ कॉन्ट्रैक्टर और ठेकेदारों को फायदा पहुंचाने और करोड़ों रूपए की धोखाधड़ी करने के आरोप लगे थे।आशू पर टेंडरिंग के 2 हजार करोड़ के घोटाले का भी आरोप है।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

Leave a Reply

Your email address will not be published.