दिल्ली से सटे नोएडा में सुपरटेक का ट्विन टावर चंद घंटों बाद मिल जाएंगे जमीन में-

दिल्ली से सटे नोएडा में सुपरटेक का ट्विन टावर चंद घंटों बाद जमीन में मिल जाएंगे। 102 मीटर ऊंचे टावर 11 मीटर मलबे के ढेर में बदल जाएंगे। वहीं, एडिफिस कंपनी के इंडियन ब्लास्टर चेतन दत्ता ने बताया कि वह ट्विन टावर के ब्लास्ट का फाइनल बटन दबाएंगे और उनके साथ जो ब्रिक्समैन और 6 लोग 100 मीटर के दायरे में उस दौरान मौजूद रहेंगे।

एडिफिस कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता ने बताया कि तैयारियां पूरी हो चुकी हैं और 28 तारीख को ढाई बजे फाइनली ट्विन टावर को गिराने का काम शुरू हो जाएगा। उन्होंने बताया कि सारे नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट मिल चुके हैं।

ट्विन टावर के सियान में विस्फोटक लगाने का काम पूरा कर लिया गया है। जिन आठ स्थानों पर सड़क बंद की जाएगी, उनमें से छह स्थानों पर सुबह सात बजे से आवाजाही बंद कर दी जाएगी। ट्विन टावर को 28 अगस्त दिन रविवार समय 2:30 पर गिराया जाएगा। ट्विन टावर को गिराए जाने से पहले आसपास की कुछ सोसायटी को एहतियातन खाली कराया जा चुका है।

करीब 7 हजार परिवारों को घर छोड़ना पड़ा है। सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट में रहने वाले लोगों की चिंता लगातार बढ़ती जा रही है। इस सोसाइटी में रहने वाले लोग डर के साए में जीने को मजबूर हैं। लोग अपने परिवार के साथ खुद को यहां पर सुरक्षित नहीं महसूस कर रहे हैं।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.