पाकिस्‍तानी सेना का बलूचिस्‍तान में दमन चक्र जारी:48 लोगों को मार गिराया है ,11 लोगों को गैरकानूनी तरीके से दी गई मौत की सजा-

पाकिस्‍तान के बलूचिस्‍तान प्रांत में पाक अर्धसैनिक बलों के अत्‍याचार के मामले सामने आए हैं। बताया जा रहा है कि पाकिस्‍तानी सेना ने यहां 48 लोगों को मार गिराया है। इनमें से 11 लोगों को गैरकानूनी तरीके से मौत की सजा दी गई है। बलूचिस्तान की मानवाधिकार परिषद के अनुसार जुलाई में फांसी के 11 मामलों सहित हत्याओं के 48 मामलों के लिए पाकिस्तान के अर्धसैनिक बल जिम्मेदार हैं। परिषद ने कहा कि महीने में गायब होने के 45 मामले दर्ज किए गए हैं।

बलूचिस्‍तान मानवाधिकार आयोग ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है, ”बलूचिस्‍तान में लोगों की इस तरह से हो रही हत्‍याएं और उनका अचानक से गायब हो जाना कानून का सरासर उल्‍लंघन है। इससे हजारों की तादात में नागरिक प्रभावित हो रहे हैं।

जुलाई के महीने में अचानक गायब हुए लोगों के परिजनों ने पूरे बलूचिस्‍तान भर में जमकर विरोध प्रदर्शन किया।पाकिस्तानी सुरक्षा बलों के द्वारा फर्जी मुठभेड़ में 11 लोगों को मार गिराए जाने की घटना पर भी इनका जबरदस्‍त आक्रोश देखने को मिला।

इस मुठभेड़ के बारे में पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने दावा किया कि वे लेफ्टिनेंट कर्नल लाइक मिर्जा बेग के अपहरण और हत्या में शामिल थे। पिछले 19 दिनों से बलूचिस्तान के गवर्नर और मुख्यमंत्री आवास के सामने धरने पर बैठे हैं, लेकिन उनकी मांगों को अभी तक स्वीकार नहीं किया गया है। जुलाई में पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने दस छात्रों सहित 45 लोगों का जबरन अपहरण कर लिया । इनमें से पंद्रह लोगों को बाद में छोड़ दिया गया, जबकि पैंतीस लोगों का कोई अता-पता नहीं है।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

Leave a Reply

Your email address will not be published.