शिक्षक भर्ती घोटाले के आरोपी पार्थ चटर्जी पर, महिला ने फेंका सैंडल-

शिक्षक भर्ती घोटाले के आरोपी पार्थ चटर्जी पर आज एक महिला ने चप्पल फेंका और कहा कि ये नेता लोग जनता का पैसा लूट रहे हैं,पार्थ को ईएसआई अस्पताल में चेकअप के लिए लाया गया था. इसी दौरान महिला उनपर चप्पल फेंक मारी।

यह घटना उस वक्त हुई जब पार्थ चटर्जी को मंगलवार दोपहर में ईडी की कस्टडी में रूटीन चेकअप के लिए ईएसआई हॉस्पिटल ले जाया जा रहा था।
तभी यह सैंडल कार की पिछली खिड़की से आकर टकराई। सैंडल फेंकने वाली महिला की पहचान शुभ्रा गौरी के रूप में हुई है। महिला के मुताबिक वह अपने रिश्तेदार के लिए दवा लेने आई थी। इसी दौरान वहां पहुंचे पार्थ चटर्जी को वीआईपी ट्रीटमेंट मिलता देख उसे गुस्सा आ गया। महिला ने कहा किएक ऐसा इंसान जिसने हजारों लोगों को धोखा देकर करोड़ों की प्रॉपर्टी और सोना खरीदा उसे एसी कार में अस्पताल में लाया जा रहा है?

करोड़ों रुपये के शिक्षक भर्ती घोटाले की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने मंगलवार को
तृणमूल कांग्रेस के निलंबित नेता पार्थ चटर्जी की करीबी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी से कथित तौर पर संबद्ध दो और फ्लैट तथा एक दुकान में छापेमारी की। यह पहली बार है जब इस मामले में किसी आम आदमी का गुस्सा सार्वजनिक तौर पर देखने को मिला है। बीजेपी अध्यक्ष सुकांतो मजुमदार ने पार्थ चटर्जी पर चप्पल फेंके जाने पर कहा कि हम इसका समर्थन नहीं करते लेकिन जिस तरह से लोगों में इनके खिलाफ नाराजगी है।

गिरफ्तार किए गए मंत्री पार्थ चटर्जी पूछताछ में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं।
ईडी अधिकारी ने कहा, वह गिरफ्तारी के बाद से ही हमारे साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं. वह अक्सर थकावट की शिकायत करते हैं और हमारे सवालों के जवाब देने से बच रहे हैं।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

Leave a Reply

Your email address will not be published.