बसपा के राष्ट्रीय महासचिव ने की प्रबुद्ध सम्मेलन में शिरकत, सीएम योगी को लेकर कही यह बात।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव को लेकर बहुजन समाज पार्टी उत्तर प्रदेश के हर जिले में प्रबुद्ध वर्ग विचार गोष्ठी कर रही है। इसी क्रम में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र हमीरपुर पहुंचे। उन्होंने कहा, बहुजन समाज पार्टी के साथ दलित समाज पहले से ही लगा है। परंतु इस बार मुस्लिम समाज और ब्राह्मण समाज संगठित हो कर मायावती को उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बनाने का मन बना लिया है। वहीं जब मीडिया ने राजभर, चन्द्रशेखर और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुसलमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा, ये सब भाजपा की चाल है। इससे बसपा पर फर्क पड़ने वाला नहीं है।


बता दें कि बहुजन समाज पार्टी ने अपने खोये हुए जनाधार को बढ़ाने के लिए प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन रामनगरी अयोध्या से की है। जिसके जिम्मेदारी बसपा प्रमुख मायावती ने राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र को दी है।
उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां हर तरह से तैयारियों में जुट गई है। कोई भी पार्टी हो सभी लोग अपने अपने किले को मजबूत करने में लगे हैं। एक तरफ जहां समाजवादी पार्टी अपनी खोई हुई कुर्सी को पाने के लिए मुस्लिमों और पिछड़ों के बीच अपनी पकड़ बनाने में जुटी हुई है, वहीं दूसरी तरफ बसपा ब्राह्मण सम्मेलन करके ब्राह्मणों को रिझाने में जुटी हुई है।

जिसकी एक झलक बुंदेलखंड के महोबा में देखी गई जहां बसपा के राष्ट्रीय महासचिव भाजपा और सपा पर जमकर बरसे। दरअसल बसपा ने महोबा में प्रबुद्ध सम्मेलन का आयोजन किया था। सम्मेलन का उद्देश्य ब्राह्मणों को अपनी ओर जोड़ना है। जिसमें उनका कहना था कि भाजपा ने ब्राह्मणों के नाम पर वोट लेकर धोखाधड़ी करने का काम किया है।
आपको बता दें कि इस समय बसपा ब्राह्मण वोट को पाना चाहती है क्योंकि इसी वोट के दम पर बसपा 2007 में प्रदेश की सत्ता में आई थी

रिपोर्ट – आर डी अवस्थी

Leave a Reply

Your email address will not be published.