मांगे न माने जाने पर अधिवक्ताओं में आक्रोश! दिया धरना

◆पूर्व में दिए ज्ञापन पर कार्यवाही न होने से अधिवक्ताओं ने किया एकदिवसीय धरना

फतेहपुर/बाराबंकी। तहसील फतेहपुर में बार एसोसिएशन द्वारा उप जिलाधिकारी को पूर्व में दिए गए ज्ञापन पर कोई निर्णय न लिए जाने के कारण अधिवक्ताओं द्वारा एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन में उल्लिखित मांगों का ससमय निस्तारण कराए जाने की मांग रखी गई इस दौरान समस्त अधिवक्ता कार्यों से विरक्त रहे।

बार एसोसिएशन फतेहपुर के अध्यक्ष प्रदीप कुमार निगम ने बताया कि विगत माह की 3 तारीख को तहसील प्रशासन को तहसील स्तर पर अविवादित वादों में अनावश्यक विलंब एवं विधि अनुसार निस्तारण न किए जाने एवं संक्रमणीय भूमिधर, धारा 143 के दाखिल खारिज न किए जाने, सुचारू रूप से नामांतरण न किए जाने,अविवादित वसीयत के मामले को अनिश्चितकालीन विचाराधीन रखे जाने को लेकर तथा ऑनलाइन वरासत के प्रकरण में लंबित प्रकरणों के साथ साथ अविवादित मामलों में आदेश पारित होने के पश्चात निश्चित समय अंतराल में अमल दरामद न होने तथा असंक्रमणीय भूमिधर से संक्रमणीय भूमिधर करने में हल्का लेखपाल द्वारा रिपोर्ट में प्रेषित किए जाने में विलंब को लेकर ज्ञापन प्रस्तुत किया गया था जिस पर कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गयी।

बार एसोसिएशन महामंत्री विष्णु मौर्य ने जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व प्रेषित सात सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा गया था जिसके क्रम में तहसील प्रशासन द्वारा कोई ठोस निर्णय न लेकर बार संघ को अवगत भी नही कराया गया जिसके चलते संघ की आम सभा बैठक में एकदिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया एवं इस प्रदर्शन के माध्यम से तहसील प्रशासन को ज्ञापन का शीघ्र निस्तारण कराने हेतु अवगत कराया गया।

रिपोर्ट- नितेश मिश्रा

Leave a Reply

Your email address will not be published.