लैब टेक्नीशियन संघ लामबंद! वापस करेंगे प्रशस्ति पत्र।

बाराबंकी: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिरौली गौसपुर में लैब टेक्नीशियन से हुई मारपीट एवं गाली गलौज के संबंध में यू पी लैब टेक्नीशियन एशोशिएसन शाखा द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि एसोसिएशन द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी बाराबंकी को ज्ञापन सौंपा गया था,जिसकी प्रतिलिपि जिला अधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को भी की गई थी एवं प्रतिनिधि मंडल द्वारा मौखिक वार्ता भी की गई थी, जिसमे मुख्य चिकित्सा अधिकारी को 3 दिन का समय दिया गया कि यदि आरोपी पुष्पेंद्र शुक्ल एवम उनके अन्य अज्ञात साथियों की गिरफ्तारी एवम मेडिकल प्रोटेक्सन एक्ट एवं कोविड महामारी अधिनियम के तहत,सरकारी कार्य मे बाधा एवं कर्मचारी से मारपीट का मुकदमा न दर्ज हुआ,तो जिले के समस्त एल टी कोरोना कार्य सहित पूर्णतया कार्य बहिष्कार करेंगे,जिसका समस्त उत्तरदायित्व मुख्य चिकित्सा अधिकारी का होगा,किन्तु 3 दिन बीत जाने के बाद भी आज तक इस प्रकरण पर कोई कार्यवाही नही हुई0, जिसकी वजह से संघ ने विवश होकर बैठक कर निर्णय लिया है कि आरोपी की गिरफ्तारी एवं कार्यवाही तक पूरे जनपद में पूर्ण रूप से कार्य बहिष्कार एवं कार्यालय मुख्य चिकित्सा अधिकारी बाराबंकी में धरना के साथ अनिश्चितकालीन हड़ताल रहेगी,जिसमे जनपद के लगभग समस्त स्वास्थ्य संगठनों ने अपनी सहमति व्यक्त की है एवम पूर्णतया साथ रहने का आश्वाशन दिया है।

एल टी संघ के अध्यक्ष श्याम सुन्दर पटेल ने कहा,की जब तक पीड़ित को न्याय नही मिलता है तब तक हम लोग चुप नही बैठने वाले हैं।संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनिल कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि हम लोगों द्वारा कोरोना में जान की बाजी लगाकर कार्य किया गया,जिसका परिणाम इस तरीके से मिल रहा है।उपाध्यक्ष कमलेश कुमार ने कहा कि हम लोगों को कोविड कार्य में जो प्रशस्ति पत्र दिए गए थे,वो हम लोग सामूहिक रूप से सी एम ओ साहब को वापस कर देंगे,क्योंकि जब जान माल की सुरक्षा ही नहीं है तो प्रशस्ति पत्र लेकर क्या करेंगे।

बैठक में पीड़ित साथी रवि प्रकाश,लैब टेक्नीशियन संघ जनपद बाराबंकी के संरक्षक श्री वक़ार अहमद,मंत्री दीपक वर्मा,कोषाध्यक्ष अरविंद कुमार,सुरेश चंद्र वर्मावीर प्रकाश वर्मा,राजाराम रावत,आर बी सिंह,शोभनाथ,अमरीश कुमार,सुरेंद्र वर्मा,विनोद कुमार,अरविन्द यादव,राकेश गौतम,आनन्द शुक्ल,प्रशान्त सिंह,रवि प्रताप,ऋषि प्रभाकर,मुकेश कुमार एवं अन्य सभी सदस्यगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.