सोनिया, राहुल, प्रियंका से मिलने की जिद लिये कांग्रेस नेता, दो दिन से बैठे भूख हड़ताल पर

हरदोई शहर कोतवाली क्षेत्र के मन्नापुरवा निवासी शिवकुमार कलेक्ट्रेट में अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। शिव कुमार की मांग है कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी या फिर प्रियंका गांधी से उनकी मुलाकात कराई जाए नहीं तो तब तक वह अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर रहेंगे।उनकी भूंख हड़ताल का आज दूसरा दिन है। दरअसल कांग्रेस के ये नेता गांधी परिवार को सियासी ज्ञान देना चाहता है।इन्हें लगता है कि कांग्रेस गलत रास्ते पर चल पड़ी है। शिवकुमार बताते हैं कि 18 अगस्त को उन्होंने ज्ञापन दिया था जिसमें आज तक अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी नई दिल्ली से कोई भी सूचना नहीं प्राप्त हुई और पार्टी के भविष्य को लेकर वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं से वार्ता करनी है।

भूख हड़ताल पर बैठे शिव कुमार का कहना है कि उनके पिता के ज़माने से वो लोग कांग्रेस के प्रबल समर्थक रहे लेकिन शीर्ष नेतृत्व ने कभी उन पर ध्यान नही दिया है। शिव कुमार ने बताया वर्ष 1967 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी कानूनगो ट्रेनिंग सेंटर पर आई थी तब उनके खेत से गन्ना मंगाया गया था। प्रधानमंत्री राजीव गांधी जब लखनऊ से हरदोई आए थे तब शिव कुमार के पिता ने गांव वालों को राजीव गांधी से मिलवाया था। मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी भी शिव कुमार के पिता के खास रह चुके है। शिव कुमार बताते हैं की तब से ही पिता के साथ ही कांग्रेस का साथ निभाते आए हैं। समय-समय पर कांग्रेस की स्थिति का ज्ञान उच्च नेताओं को पत्र लिख कर भी कराया लेकिन आज तक शीर्ष नेताओं की तरफ़ से कोई जवाब नहीं दिया गया जो कि उनके मन को काफी कचोटता है।

शिवकुमार कहते है उनके पिता और उन्होंने सारी ज़िंदगी कांग्रेस में समय बिताया कभी किसी दूसरी पार्टी का रुख नही किया लेकिन अफसोस जब चुनाव आता है तो उन्हें अपनी ही पार्टी से शर्मिंदा होना पड़ता है और पार्टी के टिकट न देने पर निर्दलीय चुनाव लड़ना पड़ता है।कांग्रेस के टिकट न देने पर भी उन्होंने किसी दूसरी पार्टी का रुख नही किया है चुनाव लड़ा भी तो निर्दलीय।

शिव कुमार का आरोप है कि पार्टी प्रमुख ध्यान नहीं देते है इसीलिए पार्टी धराशायी होती जा रही है। शिव कुमार ने अब तक 5 विधानसभा, 3 लोक सभा, 3 जिला पंचायत, 3 प्रधान पद के कुल 14 चुनाव लड़ चुके हैं। कांग्रेस पार्टी की होती दुर्गति को देखकर मजबूरन उन्हें अपनी बात कांग्रेस पार्टी की शीर्ष कमान गांधी परिवार तक अपनी बात पहुंचाने के लिए अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठना पड़ा है। शिवकुमार ने दृढ़ संकल्प लिया है जब तक उनकी मुलाकात गांधी परिवार से नहीं कराई जाती तब तक भूख हड़ताल को खत्म नहीं करेंगे। भूख हड़ताल का आज उनका दूसरा दिन है। देखना यह होगा कि उनकी कब तक सुनवाई होती है।

हरदोई से शिवहरि दीक्षित की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.