हरदोई:- 10 हजार की रिश्वत लेते रिश्वतखोर लेखपाल गिरफ्तार

एंटी करप्शन की टीम ने सदर तहसील से लेखपाल को रंगे हाथों किया गिरफ्तार

पीड़ित की जमीन कब्जा मुक्त कराने के लिए लेखपाल ने की थी रिश्वत की मांग

यूपी के हरदोई जिले में एंटी करप्शन की टीम ने एक रिश्वतखोर लेखपाल को रंगे हाथों 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है।दरअसल एक युवक ने अपनी जमीन कब्जा मुक्त कराने के लिए लेखपाल से शिकायत की थी,लेखपाल ने जमीन को कब्जा मुक्त कराने के एवज में 50 हजार रुपये की मांग की थी। रिश्वतखोरी की मांग को लेकर पीड़ित ने एंटी करप्शन टीम से इस मामले की शिकायत की थी।शिकायत के बाद एंटी करप्शन की टीम ने सदर तहसील से लगे हाथों रिश्वत लेते लेखपाल को गिरफ्तार कर लिया है। एंटी करप्शन की टीम स्थानीय थाने में लेखपाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने में जुटी है।

हरदोई जिले की सदर तहसील में लखनऊ से आई एंटी करप्शन की टीम ने सदर तहसील से लेखपाल विनीत यादव को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। दरअसल तहसील सदर क्षेत्र की ग्राम पंचायत अल्हादादपुर के रहने वाले रोशन गुप्ता की जमीन पर गांव के कुछ लोगों ने अतिक्रमण कर रखा था।अपनी जमीन कब्जा मुक्त कराने के लिए रोशन गुप्ता ने लेखपाल विनीत यादव से शिकायत की थी। जमीन को कब्जा मुक्त कराने के एवज में इलाकाई लेखपाल विनीत यादव ने पीड़ित रोशन गुप्ता से 50 हजार रुपये की रिश्वत की मांग की थी। पीड़ित के मुताबिक उसने 10 हजार रुपये लेखपाल को दिए थे लेकिन लेखपाल उससे शेष 40 हजार रुपये की मांग कर रहे थे। जिसकी शिकायत उसने लखनऊ में एंटी करप्शन विभाग से की थी। एंटी करप्शन की टीम आज लखनऊ से हरदोई पहुंची और जिलाधिकारी को पूरे मामले की सूचना दी।लोक सेवक के साथ एंटी करप्शन की टीम स्थानीय पुलिस के साथ सदर तहसील पहुंची जहां लेखपाल ने पीड़ित से रुपयों की मांग की।पीड़ित ने जैसे ही लेखपाल को रुपए दिए पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।एंटी करप्शन की टीम थाना कोतवाली शहर में रिश्वतखोर लेखपाल के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराने में जुटी है।

हरदोई से शिवहरि दीक्षित की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.