चीन और ताइवान के बीच खड़ा हुआ विवाद नहीं ले रहा थमने का नाम-

ताइवान ने एक बार फिर चीनी विमानों के उसकी सीमा में घुसपैठ का आरोप लगाया है। ताइवानी अधिकारियों ने दावा किया कि 51 चीनी युद्धपोतों, 6 वॉरशिप्स और 25 चीनी लड़ाकू बमवर्षक ने एयर डिफेंस आइडेंटिफिकेशन जोन (ADIZ) को तोड़ दिया।

ताइवान, चीन के राजनीतिक नियंत्रण को स्वीकार करने के दबाव का विरोध करता रहा है। कुछ दिनों पहले ही चीनी जहाजों और विमानों की ओर से ताइवान के समुद्री और हवाई क्षेत्र में मिसाइलें दागी गई थीं। चीनी विमानों के घुसपैठ की यह खबर ताइवान के सैन्य अभ्यास के बीच आई है।

ताइवान के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सुन ली-फेंग ने कहा था कि हम ताइवान के समुद्री और हवाई क्षेत्रों के आसपास कम्युनिस्ट चीन के लगातार सैन्य उकसावे की कार्रवाई की कड़ी निंदा करते हैं, जो क्षेत्रीय शांति को प्रभावित करता है। ताइवान की सीमा के पास से जिन 25 युद्धक विमानों ने उड़ान भरी, उनमें 12 सुखोई एसयू -30 लड़ाकू जेट, 6 शेनयांग जे-16 लड़ाकू जेट, 4 चेंगदू जे-10 लड़ाकू जेट, 2 जियान एच-6 बमवर्षक और एक शानक्सी Y-8 इलेक्ट्रॉनिक युद्धक विमान शामिल हैं।ताइवान के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सुन ली-फेंग ने कहा कि कम्युनिस्ट चीन के सैन्य अभियान हमें युद्ध के लिए तैयारी के प्रशिक्षण का अवसर प्रदान करते हैं।

 

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन’

Leave a Reply

Your email address will not be published.