स्मिता सभरवाल 23 साल में बन गई थी IAS दिमाग के साथ सुंदरता भी

आईएएस स्मिता सभरवाल तेलंगाना में तैनात हैं। उनके संघर्ष और ईमानदारी ने उन्हें जनता के बीच काफी लोकप्रिय बना दिया है। स्मिता सभरवाल का जन्म 19 जून 1977 को पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में हुआ था। उनके पिता रिटायर्ड सेना अधिकारी कर्नल प्रणब दास हैं। उनकी मां का नाम पुरबी दास है। स्मिता सभरवाल देश की सबसे कम उम्र की महिला आईएएस अधिकारियों में से एक हैं। वे उस वक्त अचानक चर्चा में आई गई थीं जब आउटलुक मैगजीन ने अपने कार्टून में उन्हें रैंप वॉक करते हुए दिखाया था। जिसके बाद उन्होंने मैगजीन को नोटिस थमा दिया था। उन्होंने सैंट फ्रांसिस कॉलेज फॉर वुमेन से बीकॉम किया। स्मिता आईएएस एग्जाम केपहले प्रयास में नाकाम रही थीं ।

2000 में उन्होंने दूसरी बार एग्जाम दिया इस बार उन्होंने ना सिर्फ परीक्षा पास की बल्कि चौथी रैंक भी हासिल किया।आईएएस स्मिता तेलंगाना के मुख्यमंत्री कार्यालय में तैनात होने वाली पहलीमहिला आईएएस अधिकारी हैं। स्मिता ने आईपीएस ऑफिसर डॉ. अकुन सभरवाल से शादी की है। स्मिता ने तेलंगाना कैडर के आईएएस की ट्रेनिंग ली। वह चितूर में सब-कलेक्टर रहीं।इसके अलावा वह कडप्पा रूरल डेवलपमेंट एजेंसी की प्रोजेक्ट डायरेक्टर,वारंगल की नगर निगम कमिश्नर और कुरनूल की संयुक्त कलेक्टर रही हैं। उनके काम करने के अंदाज और गरीबों की मदद के जुनून को सराहा जाता है।

ब्यूरो रिपोर्ट ‘द इंडियन ओपिनियन

Leave a Reply

Your email address will not be published.